डॉ. कपूरमल जैन

Submitted by UrbanWater on Thu, 09/28/2017 - 16:02

डॉ. कपूरमल जैनडॉ. कपूरमल जैनभौतिकी के उत्कृष्ट प्राध्यापक डॉ. कपूरमल जैन ने बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी, पिलानी से भौतिकी में एम.एससी. करने के पश्चात सी.एस.आई.आर. के कनिष्ठ और वरिष्ठ शोध फेलो के रूप में नॉर्थ बंगाल यूनिवर्सिटी, दार्जिलिंग में आणविक भौतिकी के क्षेत्र में आरम्भिक शोध कार्य किया। इसके पश्चात आपने यू.जी.सी. के टीचर फेलो के रूप में इण्डियन एसोसिएशन फॉर कल्टीवेशन आफ साइंस, जादवपुर (कोलकाता) में कार्य करते हुए सन 1981 में पीएच.डी. की उपाधि प्राप्त की।

आपने कई पुस्तकें लिखी हैं। विश्व प्रकृति निधि – भारत ने ‘हरी राह’, मध्य प्रदेश हिन्दी ग्रंथ अकादमी ने ‘जिज्ञासाओं के गर्भ में वैज्ञानिक चेतना’, ‘प्रायोगिक भौतिक’ तथा ‘महाविद्यालयीन भौतिकी’, साउथ एशियन पब्लिकेशन, दिल्ली ने ‘बेसिक्स ऑफ थर्मल एंड स्टेटिस्टीकल फिजिक्स’ तथा ‘इंट्रोडक्टरी क्वांटम मेकेनिक्स एंड स्पेक्ट्रोस्कोपी’, मध्य प्रदेश विज्ञान सभा ने ‘1905 में भौतिकी की क्रान्ति’ तथा आईसेक्त ने मध्य प्रदेश विज्ञान और प्रौद्योगिकी परिषद की अनुसृजन परियोजना के अन्तर्गत घर-घर में विज्ञान एवं भौतिकी की विकास यात्रा पुस्तकें प्रकाशित की हैं।

सम्पर्क


72-ए, श्रीकृष्ण हाउसिंग सोसाइटी, चूना भट्टी, भोपाल (मध्य प्रदेश) – 462016

मो. 09425674221ईमेल – kapurmaljain2@gmail.com

Printer Friendly, PDF & Email