सामाजिक एवं पर्यावरणीय न्याय नेतृत्व निर्माण शिविर

Submitted by UrbanWater on Sun, 03/12/2017 - 13:42
Printer Friendly, PDF & Email

तिथि : 01 से 03 अप्रैल, 2017
स्थान : तरुण आश्रम, भीकमपुरा, तहसील: थानागाजी, जिला : अलवर ( राजस्थान )
आयोजक: तरुण भारत संघ, अलवर


पिछले 42 वर्षाें से जल, जंगल, जमीन, जंगली जानवर, जंगलवासी को बचाने और सम्बन्धित समाज को स्वावलम्बी बनाने के काम लगा है। तरुण भारत संघ के भीकमपुरा, अलवर स्थित तरुण आश्रम में आयोजित प्रथम सामाजिक एवं पर्यावरणीय न्याय नेतृत्व निर्माण शिविर में भारत के सभी राज्यों से करीब 170 चुनिन्दा कार्यकर्ता सम्मिलित हुए थे। शिविर में मेधा पाटकर, पीवी राजगोपाल, सुमन शाह, बी आर पाटिल और स्वयं जलपुरुष राजेन्द्र सिंह जैसे नामचीन लोगों ने अपने अनुभव साझा किये थे। प्राकृतिक सम्पदाओं का शोषण और अतिक्रमण जितनी तेजी से बढ़ रहा है, इसकी चिन्ता भी इतनी ही तेजी से बढ़ रही है। यह चिन्ता, बेचैनी पैदा करने की हद तक आगे आती दिखाई तो दे रही है, लेकिन संकट की तेजी के अनुपात में समाधान व शान्ति के संगठित प्रयासों की गति अभी काफी सुस्त है।

प्राप्त आमंत्रण पत्र में उल्लिखित इस निष्कर्ष के आलोक में तरुण भारत संघ ने 01 अप्रैल से 03 अप्रैल, 2017 के बीच सामाजिक एवं पर्यावरणीय न्याय नेतृत्व निर्माण शिविर की जानकारी दी है। तरुण भारत संघ ने भीमराव अम्बेडकर के जन्मदिन को आधार बनाकर गत वर्ष एक ऐसा ही शिविर 09 अप्रैल से 14 अप्रैल के बीच आयोजित किया था। प्रस्तावित शिविर, इस शृंखला का दूसरा शिविर है।

गौरतलब है कि तरुण भारत संघ, पिछले 42 वर्षाें से जल, जंगल, जमीन, जंगली जानवर, जंगलवासी को बचाने और सम्बन्धित समाज को स्वावलम्बी बनाने के काम लगा है। तरुण भारत संघ के भीकमपुरा, अलवर स्थित तरुण आश्रम में आयोजित प्रथम सामाजिक एवं पर्यावरणीय न्याय नेतृत्व निर्माण शिविर में भारत के सभी राज्यों से करीब 170 चुनिन्दा कार्यकर्ता सम्मिलित हुए थे।

शिविर में मेधा पाटकर, पीवी राजगोपाल, सुमन शाह, बी आर पाटिल और स्वयं जलपुरुष राजेन्द्र सिंह जैसे नामचीन लोगों ने अपने अनुभव साझा किये थे। शिविरार्थियों ने शिविर समाप्त होने के 20 दिन बाद सामुदायिक जलाधिकार हेतु 5 मई, 2016 को दिल्ली कूच किया था। इस कूच के दौरान महात्मा गाँधी जी की समाधि राजघाट से संसद मार्ग, जन्तर-मन्तर तक जल चेतना मार्च किया था तथा जन्तर-मन्तर पर ही एक बड़ा सम्मेलन आयोजित हुआ था।

तरुण भारत संघ से सम्बद्ध राजेन्द्र सिंह कहते हैं कि पिछले शिविर व दिल्ली सम्मेलन के बाद उन्होेंने खुद लातूर, महाराष्ट्र के लिये प्रस्थान किया था और वहाँ जाकर अकाल मुक्ति के प्रत्यक्ष काम करवाए थे। अतः पिछले शिविर की सफलता से उत्साहित तरुण भारत संघ इस वर्ष भी सामाजिक एवं पर्यावरणीय न्याय नेतृत्व निर्माण शिविर का आयोजन कर रहा है। दी गई सूचना के अनुसार, श्री अन्ना हजारे, श्री चंडी प्रसाद भट्ट, श्री पीवी राजगोपाल, न्यायमूर्ति श्री जोशी, पर्यावरण के नामी वकील संजय पारिख तथा एकता परिषद से निखिल डे व शंकर, आदि ने प्रस्तावित शिविर में आने की पूर्ण सहमति दे दी है।

अधिक जानकारी के लिये सम्पर्क


तरुण भारत संघ कार्यालय
भूपेन्द्र सिंह परमार
मोबाईल न. 07427091289/09414019456/09450230893/09636775645


Add new comment

This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.

12 + 8 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.

More From Author

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

अरुण तिवारीअरुण तिवारी

शिक्षा:


स्नातक, पत्रकारिता एवं जनसंपर्क में स्नातकोत्तर डिप्लोमा

कार्यवृत


श्रव्य माध्यम-

Latest