Latest

सौर ऊर्जा से खारा पानी बनेगा मीठा

जल पिरामिडजल पिरामिडभास्कर न्यूज/ Feb 23, 2009

जोधपुर. बाड़मेर जिले के पचपदरा के पास स्थित पिछड़े व पेयजल संकट झेल रहे गांव रूपजी राजा बेरी के रहवासियों को अब खारे की जगह मीठा जल मिलेगा। जल प्रबंधन के लिए विश्व की नई तकनीक जल पिरामिड का इस गांव में उपयोग किया गया है। इसके माध्यम से सौर ऊर्जा का उपयोग कर खारे को मीठे जल में बदला जाएगा।

जलसभा करेगी वितरण


प्रोजेक्ट डायरेक्टर कनुप्रिया हरीश ने बताया कि जल पिरामिड थार क्षेत्र में शुद्ध पेयजल की समस्या के समाधान के लिए जल भागीरथी फाउंडेशन के प्रयास का प्रतिफल है। यूएनडीपी व इटालियन डवलपमेंट कॉपरेरेशन के सहयोग से फाउंडेशन इस क्षेत्र में स्थानीय लोगों की पानी की समस्या के समाधान लंबे समय से कार्य कर रहा है। संचालन के लिए कंपनी ने जल सभा के सदस्यों को प्रशिक्षित किया है। जल सभा पिरामिड द्वारा उत्पादित शुद्ध जल का वितरण सकेगी।

भारत में पहली बार जल पिरामिड


जल पिरामिड विश्व में तीसरा और इस क्षेत्र में पहला है। इसका निर्माण जल सभा (जल उपभोक्ता एसोसिएशन) ने किया है। जल भागीरथी फाउंडेशन के नेतृत्व में हुए निर्माण में इस तकनीक का आविष्कार करने वाली नीदरलैंड की कंपनी एक्वा-एयरो वाटर सिस्टम बी वी ने सहयोग किया है। अमेरिकी संस्था एक्यूमेन फंड ने परियोजना के लिए आर्थिक सहायता दी है। संयंत्र के लिए पानी उपलब्ध कराने वाले जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग व ग्राम पंचायत ने भी निर्माण में सहयोग किया।

क्षमता छह लाख लीटर


पिरामिड का व्यास 30 मीटर और ऊंचाई नौ मीटर है। यह सौर ऊर्जा के सहयोग से खारे पानी का वाष्पीकरण करेगा, जिसे संघनित कर अतिशुद्ध पेयजल प्राप्त किया जा सकेगा। इसके बाहर बने टैंक में वर्षा के जल का संग्रहण होगा। इस टैंक की क्षमता छह लाख लीटर की है। इस संयंत्र से प्रतिदिन एक हजार लीटर शुद्ध पेयजल उत्पादित होगा। सौर ऊर्जा के उपयोग के कारण इसका परिचालन खर्च काफी कम होगा। इससे 10000 पीपीएम वाले अशुद्ध जल को 10 पीपीएम से भी कम तक शुद्ध किया जा सकेगा।

साभार - भास्कर न्यूज

Tags - Jodhpur in india (Hindi ), Barmer district in india (Hindi ), drinking water crisis in india (Hindi ), Sweet water in place of salty water in india (Hindi ), water management in india (Hindi ), the new pyramid water technology, in india (Hindi ), solar energy use in india (Hindi ), Jal sabha in india (Hindi ), pure drinking water in india (Hindi ), Jal Bhagirathi Foundation in india (Hindi ), UNDP in india (Hindi ), Italian Development Cooperation in india (Hindi ), the problem of water in india (Hindi ), pure water produced in india (Hindi ), water pyramid in India for the first time in india (Hindi )

moosam vibhag

No

save

it is hard filling

Post new comment

The content of this field is kept private and will not be shown publicly.
  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Allowed HTML tags: <a> <em> <strong> <cite> <code> <ul> <ol> <li> <dl> <dt> <dd>
  • Lines and paragraphs break automatically.

More information about formatting options

CAPTCHA
यह सवाल इस परीक्षण के लिए है कि क्या आप एक इंसान हैं या मशीनी स्वचालित स्पैम प्रस्तुतियाँ डालने वाली चीज
इस सरल गणितीय समस्या का समाधान करें. जैसे- उदाहरण 1+ 3= 4 और अपना पोस्ट करें
15 + 4 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.