SIMILAR TOPIC WISE

Latest

सावधान अब और भी घातक हो सकता है डेंगू

Author: 
राकेश रंजन

एडीज एजिप्टीएडीज एजिप्टी (फोटो साभार - विकिपीडिया)यदि आपके पति डेंगू से ग्रसित हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि यह आपको भी प्रभावित कर सकता है। जी हाँ ऐसा सम्भव है। पिछले दिनों ब्रिटेन में जब डेंगू से ग्रसित इटैलियन आदमी के सीमेन का परीक्षण किया गया तो उसमें डेंगू के वायरस पाये गए। डेंगू के मरीज के सीमेन में इस बीमारी के वायरस पाये जाने की विश्व में यह पहली घटना है।

यूरो-सर्विलांस नामक जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की गई है। रिपोर्ट में बताया गया है कि डेंगू से प्रभावित आदमी के थाईलैंड दौरे से लौटने के बाद उसमें इस बीमारी के लक्षण पाये गए। प्रभावित व्यक्ति का इलाज 9 दिनों तक किये जाने के बाद भी जब बीमारी के लक्षण पूरी तरह नहीं गए तब उसके यूरिन और सीमेन का सैम्पल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिजीजेज (National Institute of Allergy and Infectious Diseases) में परीक्षण के लिये भेजा गया।

इंस्टीट्यूट के वायरोलॉजी डिपार्टमेंट (Virology Department) में जब सीमेन का परीक्षण किया गया तो उसमें डेंगू के वायरस पाये गए। इतना ही नहीं प्रभावित के सीमेन में पाये जाने वाले कुल वायरस की संख्या 27 थी। इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने इस जानकारी के बाद जब और गम्भीरता से परीक्षण किया तो पाया कि सीमेन में वायरस कुल 37 दिनों तक कार्यशील अवस्था में रहे।

वैज्ञानिकों ने डेंगू वायरस सम्बन्धी इस रहस्योद्घाटन के बाद इसकी तुलना जीका से की है। जीका भी डेंगू की तरह ही मच्छर के काटने से होता है। इस बीमारी से प्रभावित पुरुष के साथ शारीरिक सम्बन्ध बनाने पर महिलाएँ भी इससे प्रभावित हो जाती हैं। हाल में ही न्यू इंग्लैंड जर्नल फॉर मेडिसिन (New England Journal for Medicine) में प्रकाशित एक रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की गई है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (center for disease control and prevention) से जुड़े वैज्ञानिकों ने इस बात का पता लगाने के लिये, जीका से प्रभावित 184 लोगों के सीमेन का सैम्पल इकट्ठा किया और उनमें कई पॉजिटिव पाये गए। जीका वायरस से प्रभावित महिलाओं के गर्भ में पल रहे बच्चे भी इस बीमारी की चपेट में आ जाते हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि जीका की तरह डेंगू भी भविष्य में सेक्सुअली ट्रांस्मिटेड डिजीज (sexually transmitted diseases) की श्रेणी में आ सकता है।

डेंगू के वायरस का वाहक मादा एडीज एजिप्टी (Aedes Aegypti) नामक मच्छर होती हैं। इन मच्छरों के काटने से लोग डेंगू वायरस से प्रभावित हो जाते हैं। भारत के लिये इस रिसर्च में सामने आये परिणाम दुखदायी हो सकते हैं।

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय (Central Health and Family Welfare Ministry) द्वारा जारी किये गए आँकड़े के अनुसार पिछले दस सालों में 2017 में डेंगू की चपेट में सबसे ज्यादा लोग आये। पिछले साल डेढ़ लाख से ज्यादा लोगों के प्रभावित होने के बाद भी इस बीमारी से होने वाली मौतों की संख्या 300 थी। डेंगू के वायरस चार प्रकार के होते हैं जिनकी कोडिंग एक से चार तक की संख्या में की गई है।

भारत में ज्यादातर मामले डेंगू तीन और चार टाइप के होते हैं जो कि साधारणतः कम खतरनाक होते हैं। डेंगू वन टाइप सबसे ज्यादा खतरनाक होता है जिसमें खून की उल्टियाँ और हैमरेज तक होने की सम्भावना रहती है। डेंगू के सामान्य लक्षण हैं कमजोरी, बॉडी में रैशेज आना, कमर और शरीर के अन्य जोड़ों में दर्द, उल्टी आना, हृदय गति में अनियमितता आदि। डेंगू के केस अब सालों भर आते रहते हैं। हालांकि बरसात के मौसम में मच्छरों का प्रकोप बढ़ने के साथ ही इसके मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोत्तरी हो जाती है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के ताजा आँकड़ों पर गौर करें तो पता चलता है कि 2018 में अब तक डेंगू के 5600 से ज्यादा मामले रिपोर्ट किये जा चुके हैं। अब तक तमिलनाडु में 1450 से ज्यादा मामले रिपोर्ट किये जा चुके हैं जो देश में सबसे ज्यादा है। डेंगू के बढ़ते केसेज का सम्बन्ध जलवायु परिवर्तन से भी है।

प्राकृतिक संसाधनों के नित हो रहे दोहन और मानवजनित मशीनीकरण का असर लोगों के स्वास्थ्य पर भी पड़ रहा है। शहर तो शहर गाँवों का वातावरण भी दूषित होता जा रहा है। मौसम का मिजाज भी बिल्कुल अप्रत्याशित हो गया है जो विभिन्न रोगों के वायरस आदि को जन्म दे रहा है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) भी मौसम में हो रहे बदलाव को रोगों के पनपने का कारण मानता है। डेंगू का वायरस इस बीमारी से प्रभावित लोगों के बोन मैरो को भी प्रभावित कर रहा है। यह लोगों की लाल और सफेद रक्त कणिका दोनों को ही प्रभावित करता है। इन रक्त कणिकाओं के प्रभावित होने से व्यक्ति का शरीर कमजोर हो जाता है प्लेटलेट्स (Platelets) की संख्या कम हो जाती है। इसी वजह से डेंगू से प्रभावित व्यक्ति की मौत तक हो जाती है।


TAGS

report in eurosurveillance, dengue, zika, national institute of infectious diseases japan, national institute of allergy and infectious diseases address, national institute of allergy and infectious diseases internship, niaid address, niaid location, the national institute of allergy and infectious diseases tel fax, niaid logo, the national institute of allergy and infectious diseases fax, the new england journal of medicine impact factor, new england journal of medicine jobs, new england journal of medicine subscription, new england journal of medicine impact factor 2017, new england journal of medicine case report, new england journal of medicine login, new england journal of medicine clinical trials, new england journal of medicine abbreviation, center for disease control locations, cdc disease, cdc database, cdc headquarters, cdc atlanta, disease control definition, cdc phone number, cdc wiki, sexually transmitted diseases symptoms, types of sexually transmitted diseases, sexually transmitted diseases pictures, sexually transmitted diseases list, sexually transmitted diseases definition, sexually transmitted infection, sexually transmitted diseases ppt, venereal disease definition, aedes aegypti mosquito characteristics, aedes aegypti diseases, aedes aegypti life cycle, aedes aegypti range, aedes aegypti dengue, aedes aegypti pronunciation, aedes aegypti larvae, aedes aegypti and aedes albopictus, ministry of health and family welfare directory, ministry of health and family welfare recruitment, ministry of health and family welfare programs, ministry of health and family welfare recruitment 2018, ministry of health and family welfare nirman bhawan, health minister of india 2017, health minister of india office address, ministry of health and family welfare cghs, chikungunya sexually transmitted, does dengue spread by kissing, dengue fever transmission between humans, is dengue fever sexually transmitted, dengue symptoms, dengue recovery period, dengue spread through air, after dengue fever precautions, eurosurveillance impact factor, eurosurveillance impact factor 2017, eurosurveillance outbreak report, eurosurveillance bulletin, eurosurveillance author guidelines, eurosurveillance zika, ecdc, eurosurveillance abbreviation.


solitaire freecell

Play one of the most popular and classic  solitaire freecell game here on our homepage the goal of the game is to score more points than your opponent player based on the modern solitaire games you loves to play it for free. 

Z B C

KOI BHI SIKYAT NHI SB SHI HAI

टिप्पणी

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन <a href="http://bulletinofblog.blogspot.in/2018/05/gurudev-rabindranath-tagore.html">गुरुदेव रबीन्द्रनाथ टैगोर और ब्लॉग बुलेटिन</a> में शामिल किया गया है। <b>कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।</b>

Post new comment

The content of this field is kept private and will not be shown publicly.
  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Allowed HTML tags: <a> <em> <strong> <cite> <code> <ul> <ol> <li> <dl> <dt> <dd>
  • Lines and paragraphs break automatically.

More information about formatting options

CAPTCHA
यह सवाल इस परीक्षण के लिए है कि क्या आप एक इंसान हैं या मशीनी स्वचालित स्पैम प्रस्तुतियाँ डालने वाली चीज
इस सरल गणितीय समस्या का समाधान करें. जैसे- उदाहरण 1+ 3= 4 और अपना पोस्ट करें
2 + 6 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.