लेखक की और रचनाएं

SIMILAR TOPIC WISE

Latest

जिंदल प्राइज़ के लिए आवेदन आमंत्रित

हमारे देश को बदलाव की जरूरत है। नैतिक आदर्शों, शांति, स्वास्थ्य, शिक्षा और राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देते हुए, उन व्यक्तियों तथा संस्थाओं को प्रोत्साहित एवं प्रेरित करने के लिए जिन्होंने समाज की सेवा की है और एक अंतर पैदा किया है, सीताराम जिंदल फाउंडेशन ने एक प्रतिष्ठित पुरस्कार-जिंदल प्राइज़ की शुरुआत की है। यह वार्षिक पुरस्कार निम्नलिखित पाँच श्रेणियों में व्यक्तियों या संस्थाओं द्वारा किये गये असाधारण योगदान को सम्मानित करेंगेः

• ग्रामीण विकास और गरीबी उन्मूलन
• स्वास्थ्य (औषध-रहित चिकित्सा समेत)
• शिक्षा (नैतिक उत्थान पर विशेष बल समेत)
• विज्ञान, प्रौद्योगिकी और पर्यावरण
• शांति, सामाजिक सौहार्द और विकास



'जिंदल पुरस्कार’ के लिए नामांकन आवेदन आमंत्रित हैं।

• नामांकन निर्धारित प्रारूप पर अंग्रेजी/हिन्दी में ही भेजा जाना है। नामांकन पत्र www.jindalprize.org से डाउनलोड कर सकते हैं।

स्वयं नामांकन स्वीकार्य नहीं हैं। स्वयं नामांकित प्रविष्टि को सरसरी तौर पर खारिज कर दिया जाएगा।

अधूरा नामांकन प्रपत्र एक वैध नामांकन के रूप में विचार नहीं किया जाएगा।

• किसी भी अधिक जानकारी और पात्रता मानदंड के लिए आप वेबसाइट www.jindalprize.org देख सकते हैं

• नामांकन प्रपत्र सभी आवश्यक जानकारी के साथ निर्धारित प्रारूप में डाक द्वारा निम्न पते पर भेजें:

"नामांकन"
महासचिव
जिंदल पुरस्कार सचिवालय
11, ग्रीन एवेन्यू डी -3 सेक्टर के पीछे,
वसंत कुंज
नई दिल्ली 110070


नामांकन की प्राप्ति के लिए • • अंतिम तिथि 30 जून 2011 है

पुरस्कार विजेताओं का चयन नौ गणमान्य व्यक्तियों की ज्यूरी द्वारा किया जाएगा।

ई-मेल-info@jindalprize.org

Poluation against Ganga Nonely Gangason

गंगा को प्रदूषण मुक्त करने और कुंभ क्षेत्र को प्रदूषण से मुक्त करने की मांग को लेकर अनशन कर रहे मातृसदन के स्वामी निगमानंद की 2011 में मौत तक हो चुकी है। इतना ही नहीं, मातृसदन के परमाध्यक्ष स्वामी शिवानंद भी नवंबर 2011 में गंगा को खनन मुक्त करने की मांग को लेकर लंबा अनशन कर चुके हैं। इन अनशनों को भी राज्य सरकार ने दबाने की पूरी कोशिश की। यहां तक शिवानंद के अनशन के दौरान तो सरकार में मंत्री दिवाकर भट्ट ने उनके खिलाफ मोर्चा तक खोल दिया था। अब गंगा की अविरलता को लेकर अनशन कर रहे स्वामी सानंद भी स्थानीय क्षेत्रिय दलों के निशाने

bhrsttachar

bhrsttachar desh dimmk ter khokhla kar rha h
desh mae aisa koi sarkari deftr mhi jaha risvat ke bina kam hota ho

corruption are lived in her human in blood

hamaray country kaa leaders and goverment server kuttay hay hamary leaders 65 to 80 yeers ka nahe hona chaheya.congrees ke directar dheshdrohe soniya aunty hay.hamara leader 35 to 55 saal kaa young hona chaheya. soniya (gandhi)gandhi kaha lanay kaa layak nahe. anna hajarya kee jay.

question

i am a social worker. i aqm suggestion for local area water problem

WE HAVE AN NG O NAMLY

WE HAVE AN NG O NAMLY CHANDNICHAKHAT ASSOCITION FOR RURAL SOCIAL AND HEALTH ADVANCEMENT MOSTLY WE ARE WORKING DOWDDREN PEOPLE HEALTH EDUCATION

Post new comment

The content of this field is kept private and will not be shown publicly.
  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Allowed HTML tags: <a> <em> <strong> <cite> <code> <ul> <ol> <li> <dl> <dt> <dd>
  • Lines and paragraphs break automatically.

More information about formatting options

CAPTCHA
यह सवाल इस परीक्षण के लिए है कि क्या आप एक इंसान हैं या मशीनी स्वचालित स्पैम प्रस्तुतियाँ डालने वाली चीज
इस सरल गणितीय समस्या का समाधान करें. जैसे- उदाहरण 1+ 3= 4 और अपना पोस्ट करें
9 + 5 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.