गांव के पास ईट भट्ठा गैर कानूनी

Submitted by pankajbagwan on Mon, 02/03/2014 - 20:50
Printer Friendly, PDF & Email
Source
दैनिक जागरण कानपूर
इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ ने अमेठी के मोचवा गांव से 200 मीटर दूर स्थित ईट भट्टे को तत्काल बंद किये जाने का आदेश दिया है। साथ ही भट्ठा मालिक व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड पर पांच लाख रूपये का हर्जाना ठोंका है। अदालत ने गैरकानूनी तरीके से प्रदूषण बोर्ड द्वारा जारी अनापत्ति प्रमाणपत्र भी खारिज कर दिया है। अदालत ने कहा कि यदि दो माह में हर्जाने की रकम जमा नहीं की गई तो जिलाधिकारी इसे भू राजस्व की तरह वसूल सकते है। पीठ ने कहा कि व्यक्ति का जीवन बहुमूल्य है। इसलिए गांव की आबादी के बहुत करीब भट्ठा चलाया जाना गैर कानूनी है।

हाई कोर्ट ने अमेठी के मोचवा गाँव के पास चल रहे ईट भट्टे को बंद कराने का दिया आदेश


यह आदेश न्यायमूर्ति देवी प्रसाद सिंह व न्यायमूर्ति विष्णु चन्द्र गुप्त की अदालत ने याची शिवशंकर यादव की ओर से दायर याचिका को स्वीकार करते हुये दिए है। याचिका में कहा गया कि अमेठी के गांव मोचवा के करीब 200 मीटर दायरे में ईट भट्ठा चलाया जा रहा है। कानून के अनुसार गांव के 500 मीटर के दायरे में कोई भी ईट भट्ठा नहीं चल सकता तथा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड अनापत्ति प्रमाण पत्र जारी नहीं कर सकता । याचिका में आरोप लगाया गया कि मोचवा गांव में जय प्रकाश के नाम से ईट भट्ठा गांव की आबादी से 200 मीटर पर है।

संकलन /प्रस्तुति
पंकज कुमार ‘बागवान’

Comments

Submitted by Devendra kumar (not verified) on Wed, 04/12/2017 - 20:21

Permalink

सर मै किसान हूँ,गाँव के नजदीक फैक्ट्रीयो द्वारा अशुद्ध कैमिकल युक्त जल बोरवैल द्वारा जमीन मे डाला जा रहा है,व कैमिकल युक्त धुवाँ वातावरण मै छोडा जा रहा है !साँस लेना दुभर,व जल जहरीला होने के कारण अनेको बिमारियो से आम जन परेशान है,कृपया,जाँच कर कार्यवाही सुनिष्चित करे!धन्यवाद ।

Submitted by शैलेन्द्र कुमार सिंह (not verified) on Mon, 07/31/2017 - 23:35

Permalink

श्रीमानजी, जनपद गोण्डा (उत्तर प्रदेश) ग्रामपंचायत मध्यंनगर पुरेमुसद्दी में गाटा संख्या -3 क में जो कि केहरि बख्स सिंग आदि के नाम दर्ज है में स्कूल संचालित है व् पेड़ लगे है ।इसी गाटा संख्या -3क में भगौती प्रसाद वर्मा द्वारा BPB नाम अथवा किसी अन्य नाम से ईंट भट्ठे का संचालन किया जा रहा है जिससे व्यापक प्रदूषण फ़ैल रहा है और स्कूल में बच्चो एवम बाग़ में लगे पेड़ व् उसी से सटी 3 ख गांव समाज के पेड़ों को नुकसान पहुँच रहा है। परंतु कोई कार्यवाई जिला पंचायत या पर्यावरण विभाग द्वारा नहीं की जा रही है। कृपया ध्यान देकर कार्यवाही करने का कास्ट करे। भट्ठे का स्थान ग्राम मध्यंनगर पुरेमुसद्दी तहसील व् जनपद गोण्डा उत्तर प्रदेश

Submitted by Ravi Kumar Yadav (not verified) on Tue, 09/05/2017 - 18:57

Permalink

Sir there's in our agriculture land many of bricks udhog there is so many Labour comes here from other states but udhogs have not toilets they goes in agriculture land that is not good and Live in road boundary please take action

Submitted by मानवाधिकार और … (not verified) on Mon, 10/30/2017 - 19:04

Permalink

श्रीमान जीजनपद गोण्डा(उत्तर प्रदेश) ग्राम पंचायत चिस्तीपुर, ग्राम पंचायत खिराभा, एवं ग्राम पंचायत विशुनागा जो कि तीनों ग्राम सभा गोण्डा से फैज़ाबाद के मुख्य रोड से बिल्कुल सटा हुआ है।इन तीनो ग्राम सभा मे बिना फुकाई का लाइसेंस लिए,बिना पर्यावरण मंजूरी,तथा बिना प्रदूषण मंजूरी के धड़ल्ले से भट्ठों का संचालन कर रखा है।अपनी गुंडई के बल पर लाखों गरीब किसानों,स्कूल के बच्चों एवं अन्य की ज़िन्दगी से खिलवाड़ कर रहे है।सच्चाई तो ये है कि इतनी घनी आबादी में भठ्ठे लगे ऐसा मानक के विरुद्ध ही होगामै एक समाजसेवी होने के नाते आपसे हाथ जोड़ के मिनती करता हूँ कि इस पर एक नज़र डाल कर उचित कार्यवाही करने की कृपा करें ।जिसस

Submitted by Vijaybahadursingh (not verified) on Fri, 02/23/2018 - 09:41

Permalink

प्रदूषण रोकने के लिए प्रदूषण युक्त व्यवसायों को आबादी से दूर करना चाहिए. गांव की खुशहाली के लिए देश की खुशहाली के लिए सबको विचार करना चाहिए.. जय हिंद.

Add new comment

This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.

3 + 15 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.

More From Author

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

Latest