ज्ञानेन्द्र रावत

Submitted by RuralWater on Fri, 06/19/2015 - 11:20

एक परिचय:


. 21 जनवरी 1952 को एटा, उ.प्र. में शिक्षक माता-पिता के यहाँ जन्म।

राजकीय इंटर कॉलेज, एटा से 12वीं परीक्षा उत्तीर्ण, सागर विश्वविद्यालय से स्नातक, छात्र जीवन में अंग्रेजी हटाओ आन्दोलन, समाजवादी युवजन सभा और छात्र संघ से जुड़ाव रहा। राजनैतिक गतिविधियों में संलिप्तता के कारण विधि स्नातक और परास्नातक की शिक्षा अपूर्ण।

1978 से राष्ट्रीय व क्षेत्रीय दैनिक समाचार पत्र, साप्ताहिक-पाक्षिक एवं मासिक पत्रिकाओं में सामाजिक, समसामयिक, पर्यावरणीय व ज्वलन्त विषयों-मुद्दों पर सैकड़ों लेख प्रकाशित।

चौधरी चरण सिंह द्वारा स्थापित किसान ट्रस्ट द्वारा प्रकाशित असली भारत (साप्ताहिक) में उपसम्पादक, सहायक सम्पादक व विचार प्रधान मासिक पत्रिका असली भारत में सहायक सम्पादक-सम्पादक रहे।

पूर्व प्रधानमन्त्री चौधरी चरणसिंह द्वारा लिखित पुस्तकों का सम्पादन।

ग्रामीण विकास की दिशा और दशा, शिक्षा का स्वरूप, पत्रकारिता के विभिन्न स्वरूप, चौधरी चरण सिंह: स्मृति और मूल्यांकन, द स्टेटस ऑफ दलित एण्ड ह्यूमन राइट इन इण्डिया, दलित एण्ड द लॉ इन द ट्वेंटी फर्स्ट सेंचुरी, दलित इन द पॉस्ट एण्ड प्रजेंट, दिल्ली के प्रमुख दर्शनीय स्थल, सरसा के पुर्नजीवन की गाथा एवं ऐसे बही भगाणी-तिलदेह आदि अनेकों पुस्तकें प्रकाशित। गाँधी: व्यक्तित्व, विचार और गाँधीवाद, महात्मा गाँधी और हिन्द स्वराज्य, महामानव महात्मा गाँधी: एक विमर्श, अम्बेडकर: कुछ अनछुए प्रसंग, पर्यावरण: विकास और यथार्थ, पर्यावरण: एक विश्लेषणात्मक अध्ययन, प्रेस: प्रहार और प्रतिरोध, प्रेस: दायित्व और यथार्थ, संचार माध्यम और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, सुनामी का ताण्डव, औरत: अस्मिता और यथार्थ, औरत: त्रासदी का सच, कंस समाज में औरत, औरत एक समाजशास्त्रीय अध्ययन, दलित नारी: एक विमर्श, दलित महिलाएँ, डायवर्सिटी ईयरबुक 2006 आदि पुस्तकें सम्पादित एवं चौधरी चरण सिंह: सूक्ति और विचार नामक संकलन प्रकाशित।

महात्मा गाँधी: सत्याग्रह और गाँधीगीरी, सतनामी सम्प्रदाय का महासन्त: गुरू घासीदास, उलगुलान का महानायक: बिरसा मुंडा आदि पुस्तकें शीघ्र प्रकाश्य।

सम्प्रति: विशेषतः पर्यावरणीय, वन्यजीव, सामाजिक विषयों सम्बन्धित एवं राष्ट्रीय मुद्दों पर स्वतन्त्र लेखन।

सम्बद्धः नदी-जल बचाओ अभियान, तरुण भारत संघ एवं जल बिरादरी।

Printer Friendly, PDF & Email