जलवायु परिवर्तन से निपटेंगे समुद्री जीव

Submitted by RuralWater on Thu, 04/25/2019 - 17:01
Printer Friendly, PDF & Email

जलवायु परिवर्तन के भयंकर परिणाम देखने को मिल रहे हैं। विशेषज्ञों का दावा है कि आने वाले वक्त में यह और भी भयावह होंगे। इससे बचाव की तरकीबें अपनाई जा रही हैं। मगर हाल ही में वैज्ञानिकों ने जलवायु परिवर्तन के खतरे को कम करने का नया तरीका खोजा है। शोधकर्ताओं का कहना है कि समुद्री जीव कार्बन को संग्रहित रखने में माहिर हैं। ऐसे में यह पर्यावरण के लिए रक्षक का काम कर सकते हैं।

इस वक्त दुनियाभर के वैज्ञानिक यह जानने में जुटे हैं कि जलवायु परिवर्तन जलीय जीवों को किस तरह प्रभावित कर रहा है। नए अध्ययन के अनुसार खुद जलीय जीव ही इस समस्या का समाधान बन सकते हैं।.

कम लागत की प्रभावी तरकीब:

नई तरकीब अत्यधिक प्रभावी और कम लागत की है। इसकी मदद से जंगल और समुद्रों में बड़ी मात्रा में कार्बन को इकट्ठा किया जा सकता है। एक्सपर्ट का कहना है कि समुद्र में कार्बन स्टोरेज के बचाव की कोई नीति अब तक नहीं बनी है, जहां धरती का सबसे ज्यादा कार्बन इकट्ठा होता है और जो हमारे ग्रह के जलवायु चक्र का केंद्रीय तत्व है। ऐसे में यह नया तरीका मददगार साबित होगा।.

इस तरह स्टोर करते हैं कार्बन:

दरअसल समुद्री जीव-जन्तु एक प्राकृतिक प्रक्रिया के जरिए कार्बन को पृथक करने में सक्षम होते हैं। ये कार्बन को अपने शरीर में स्टोर करके कार्बन युक्त बेकार पदार्थ को उगल देते हैं, जो समुद्र की गहराई में चले जाते हैं। इस तरह यह जलीय पौधों के लिए बचाव का काम करते हैं। वैज्ञानिकों ने शुरुआती अध्ययन में पाया है कि व्हेल मछली, सीबर्ड्स और अन्य जलीय जीवों में वातावरण से कार्बन को दूर करके रखने की क्षमता होती है। व्हेल जैसे बड़े जीव बड़ी संख्या में कार्बन को लंबे वक्त तक स्टोर करके रखते हैं। वहीं ऊदबिलाव जैसे जीव केल्प (समुद्री घास) की वृद्धि में मददगार हैं। केल्प फॉरेस्ट कार्बन को स्टोर करती है। .

यह अध्ययन समुद्री जीवों के व्यवहार, पारिस्थितिकी और संरक्षण पर केंद्रित है। अगर व्हेल की बात करें, तो इसका वजन करीब 50 टन होता है और करीब 200 सालों तक जीवित रहती है, ऐसे में ये बड़ी संख्या में कार्बन को लंबे वक्त तक स्टोर करके रख सकती है।.

वैज्ञानिकों की टीम नॉर्वे में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण प्रोग्राम सेंटर, यूएन पर्यावरण/जीआरआईडी-अरेंदल में काम कर रही है। वैज्ञानिकों का कहना है कि इकोसिस्टम को दुरुस्त रखने के अलावा कई कारणों से जलीय जीव महत्वपूर्ण हैं। उनका बचाव समुद्र इस बात को सुनिश्चित करेगा समुद्र के जरिए इंसानों को भोजन, ऑक्सीजन, प्राकृतिक सुंदरता की आपूर्ति होती रहेगी। .