सहस्रधारा में जंगलात की जमीन पर कब्जा करने पर हो केस

Submitted by RuralWater on Tue, 04/23/2019 - 12:40
Printer Friendly, PDF & Email

हिन्दुस्तान देहरादून, 23 अप्रैल 2019

पर्यटक स्थल सहस्रधारा में वन भूमि पर हुए अतिक्रमण के खिलाफ स्थानीय लोग जागरूक होने लगे हैं। समाजसेवी अनिल कक्कड़ ने वन भूमि कब्जाने वालों के खिलाफ मुदकमे की मांग की है। उन्होंने पीसीसीएफ जयराज को इसके लिए पत्र भेजा है।.

पत्र में कहा गया कि हिन्दुस्तान समाचार पत्र की मुहिम के बाद वन विभाग ने वहां सर्वे शुरू करवाया। अब लगभग सारा अतिक्रमण चिह्नित हो चुका है। इसमें कुछ वन अधिकारी, व्यावसायी और प्रापर्टी डीलरों की ओर से वन भूमि कब्जाने का खेल सामने *आ गया है। लेकिन विभाग ऐसे लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के बजाए राजस्व के साथ संयुक्त सर्वे की *बात कहकर मामला टाल रहा है। *जबकि सर्वे के बाद कई जगह वन भूमि कब्जे में ली गई है और कई जगह चिह्नीकरण किया जा चुका है। इसके बावजूद विभाग के बड़े अफसर चुप्पी साधे बैठे हैं। .

वहीं उन्होंने राजस्व विभाग की भूमिका पर भी सवाल उठाए कि करीब एक माह से पटवारी सर्वे के लिए नहीं आ रहे। उन्होंने संयुक्त सर्वे में खेल की भी आशंका जताई है। साथ ही संयुक्त सर्वे की लगातार मॉनिटरिंग की भी मांग की। .

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा