शहर में हवा की गुणवत्ता में हुई गिरावट

Submitted by editorial on Tue, 10/30/2018 - 16:34
Source
द हिन्दू, 29 अक्टूबर 2018

दिल्ली में छाई धुंधदिल्ली में छाई धुंध (फोटो साभार - द हिन्दू)देश की राजधानी दिल्ली की हवा की खराब गुणवत्ता से जंग जारी है। इन दिनों राजधानी में एयर क्वालिटी इंडेक्स मानक से काफी ऊपर होने के कारण वायु प्रदूषण का स्तर काफी बढ़ गया है।

रविवार को शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स 366 रिकॉर्ड किया गया जो इस साल में अब तक सबसे ज्यादा है। इस प्रकार की हवा को बहुत खराब स्तर वाला माना जाता है जो राजधानी की 32 मॉनिटरिंग स्टेशनों में दर्ज की गई एयर क्वालिटी इंडेक्स का औसत है। यही वजह है कि आज-कल राजधानी के सभी इलाकों में धुंध का पहरा है।

केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा जारी आँकड़े बताते हैं कि कमोबेश यही स्थिति राष्ट्रीय राजधानी के अन्य इलाकों की भी है। गुरुग्राम, गाजियाबाद आदि शहरों में भी प्रदूषण का स्तर इन दिनों काफी ज्यादा है जिसके कारण इन शहरों का एयर क्वालिटी इंडेक्स भी काफी खराब है।

रविवार को ही दिल्ली में हवा में पीएम 2.5 का स्तर 236 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर (ug/m3) दर्ज किया गया जो इस सीजन में अब तक सबसे अधिक है। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आँकड़े के अनुसार हवा में पीएम 10 कणों की मौजूदगी 394 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर पाई गई। वहीं, तय मानक के अनुसार हवा में पीएम 2.5 और पीएम 10 कणों की मात्रा क्रमशः 60 और 100 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर से अधिक नहीं होनी चाहिए।

दिल्ली में गिरते हवा के स्तर के लिये जिम्मेवार कारकों का अध्ययन करने वाले पर्यावरणविदों का कहना है कि इसका कारण केवल भवन निर्माण अथवा वाहनों के धुएँ से निकलने वाले अति सूक्ष्म कण ही नहीं बल्कि पंजाब और हरियाणा के खेतों में पराली जलाने की घटनाएँ भी हैं।

राष्ट्रीय राजधानी और उसके आस-पास के क्षेत्रों में लगातार बढ़ रहे वायु प्रदूषण को ध्यान में रखते हुए केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने खासकर 1 से 10 नवम्बर अर्थात दिवाली के समय प्रदूषण फैलाने वाले सभी साधनों जैसे कल-कारखानों आदि के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का ऐलान किया है।

यह कदम लोगों के स्वास्थ्य को देखते हुए उठाया है। विभाग द्वारा दिये गए निर्देशों एवं समयावधि में राजधानी और उसके आस-पास के इलाकों में स्थित सभी कोयला और बायोमास आधारित फैक्टरियों को बन्द रखना होगा। इतना ही नहीं परिवहन विभाग को भी यह निर्देश जारी किया गया है कि प्रदूषण फैलाने गाड़ियों की चेकिंग करें ताकि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में वाहनों के दबाव को कम किया जा सके।

इसके अतिरिक्त केन्द्र द्वारा पोषित सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड रिसर्च (SAFAR) ने भी स्वास्थ्य सम्बन्धी निर्देश जारी किये हैं। सफर ने अपने निर्देश में कहा है कि वे लोग जिन्हें हृदय और फेफड़े से सम्बन्धित बीमारी है वे ज्यादा देर तक खुले में काम न करें। इतना ही नहीं लोगों से यह भी कहा गया है कि जॉगिंग की बजाय वे थोड़ी दूरी के लिये टहलें। इसके अलावा घर की खिड़कियों को बन्द रखने और मास्क पहनने की भी हिदायत दी गई है।

सफर ने कहा है कि आने वाले तीन दिनों में शहर के प्रदूषण में इजाफा होगा लेकिन वह अति गम्भीर स्तर को नहीं छूएगा। उसके अनुसार यह स्थिति स्थिर हवा, लो वेंटिलेशन और अपेक्षाकृत कम पराली जलाने की घटनाओं के कारण उत्पन्न हुई है।

शहर में बढ़ते प्रदूषण के स्तर को देखते हुए दिल्ली निवासी ट्विटर पर #righttobreath नामक हैशटैग से इन दिनों खूब ट्रेंडिंग कर रहे हैं और अपनी भावनाएँ व्यक्त कर रहे हैं।

ट्विटर यूजर अमूल आरती ने कहा, “लोग महामारी और प्रदूषित पानी से तो बच सकते हैं लेकिन वायु प्रदूषण से कोई नहीं बच सकता है क्योंकि हवा तो सर्वव्यापी है।” लोग दिल्ली में छाई धुंध की तस्वीर भी फेसबुक और इंस्टाग्राम पर #righttobreath हैशटैग के नाम से शेयर कर रहे हैं।

एयर क्वालिटी इंडेक्स के अनुसार हवा की गुणवत्ता

एयर क्वालिटी इंडेक्स

गुणवत्ता

0-50 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

अच्छा

51-100 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

सन्तोषजनक

101-200 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

मध्य

201-300 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

खराब

301-400 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

बहुत खराब

401-500 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

अति गम्भीर


अंग्रेजी में पढ़ने के लिये दिये गए लिंक पर क्लिक करें।

TAGS

air pollution in delhi, national capital region, air quality index, central pollution control board, pm 2.5, pm10, stubble burning in haryana and punjab, vehicular pollution, pollution from coal fired and biomass based industries, system of air quality and research, air pollution in delhi essay, delhi air pollution report, air pollution in delhi statistics, delhi air pollution case study, causes of air pollution in delhi, pollution in delhi today, delhi pollution wikipedia, air quality mumbai, What are the effects of air pollution in Delhi?, Why Delhi is most polluted city?, How much is the pollution in Delhi?, Which is India's most polluted city?, What are the 3 main causes of air pollution?, What is the main cause of air pollution in India?, What's the most polluted city in the world?, What are main causes of air pollution?, Is Bangalore polluted?, What are the top 10 most polluted countries?, What causes smog in Delhi?, What is the most polluted country in the world?, Which is the cleanest city of India?, Which is the dirtiest city in India?, Which city in India is reported to be highly polluted?, Why do farmers burn stubble?, What is the meaning of stubble burning?, Why do they burn wheat fields?, When was straw burning banned?, explain impact of crop burning in punjab and haryana, pollution in punjab and haryana, stubble burning machine, crop burning punjab, stable burning in punjab, paddy burning in punjab, nasa stubble burning, haryana crop burning, vehicular pollution definition, vehicular pollution essay, vehicular pollution article, vehicular pollution introduction, vehicular pollution wikipedia, how to control vehicular pollution, vehicular pollution in india, vehicular pollution project, How can we control vehicular pollution?, How much do cars pollute?, What kinds of pollution are caused by automobiles?, What is vehicular air pollution?, What is vehicular pollution?, How can we reduce pollution?, Why are cars bad for the environment?, How much pollution does a car produce per day?, How do cars affect the environment?, What can I do to reduce vehicle pollution?, How much pollution is in the world?, How much do cars contribute to global warming?, Which element is released by vehicles?, What are natural reasons for water pollution?, How does car pollution affect human health?, estimates of emissions from coal fired thermal power plants in india, emissions from coal combustion at thermal power plants, co2 emissions from coal fired power plants per kwh, how to calculate so2 emissions from coal, biomass pollution, emissions from coal based power plants, co2 emission per kwh electricity india, co2 emission factor for electricity in india 2017, How much coal is needed to produce 1 MW?, What is another name for this equipment and what does it do to reduce the impact of coal use?, How do you calculate co2 emissions of coal?, How much carbon dioxide does a coal power plant produce?, How much does coal cost?, How much does a kilo of coal cost?, Why coal is bad for the environment?, Why is coal good for the environment?, What is the environmental impact of coal?, How much carbon dioxide is produced by burning a gallon of gasoline?, How much carbon dioxide is produced by burning a gallon of diesel?, How much co2 does a tree absorb?, How does burning coal pollute the air?, How does coal mining affect the environment?, What gases are produced when cars burn fuel?, safar air quality wiki, safar pib, safar full form, safar gktoday, system of air quality and weather forecasting and research institute, safar system, air quality index ahmedabad, safar index.

 

Disqus Comment