छत के पानी का एकत्रीकरण (Roof Top Water Harvesting)

Submitted by admin on Sat, 09/06/2008 - 11:45
Printer Friendly, PDF & Email
वर्षाजल संरक्षणवर्षाजल संरक्षणवर्षाजल संग्रहण अथवा एकत्रीकरण की इस प्रणाली में घरों की छतों पर पड़ने वाले वर्षा जल को गैलवेनाईज्ड आयरन, एल्यूमिनियम, मिट्टी की टाइलें अथवा कंक्रीट की छत की सहायता से जल एकत्रीकरण के लिये बने टंकियों अथवा भूजल रिचार्ज संरचना से जोड़ दिया जाता है। इस प्रकार एकत्रित जल का प्रयोग सामान्य घरेलू उपयोग के अलावा भूजल स्तर बढ़ाने में भी किया जाता है।

छत के पानी का जमीन पर बनी टंकियो में एकल करके बिभिन्न कार्यो में प्रयोगछत के पानी का जमीन पर बनी टंकियो में एकल करके बिभिन्न कार्यो में प्रयोग











एक खराब एवं अनुपयोगी कुएं की सहायता से एकत्रित वर्षा जल को भूजल में मिलाने की विधिएक खराब एवं अनुपयोगी कुएं की सहायता से एकत्रित वर्षा जल को भूजल में मिलाने की विधि











लम्बी पत्थर से भरी नालियों द्वारा भूजल रिचार्जलम्बी पत्थर से भरी नालियों द्वारा भूजल रिचार्ज











घरों की छतो के वर्षा जल कों एकत्रित करने के लिये बनाई जाने वाली विषेष नालियांघरों की छतो के वर्षा जल कों एकत्रित करने के लिये बनाई जाने वाली विशेष नालियां/>














Comments

Submitted by rajeev shukla (not verified) on Fri, 04/28/2017 - 21:39

Permalink

dear sir

            we want more detail of rain water harvesting

 

 

yours

 

for anshuraj tubewell

 

  rajeev shukla

9005338855

7755883399

Submitted by Anil Gurav (not verified) on Sat, 05/20/2017 - 16:02

Permalink

 I am in khanapur Dist Belgaum State Karnataka

in India 

 

I am start in project for the water harvesting in our House roof water so please give me detail about this.

 

Thanking You

 

 

Yours faithfully 

 

Anil Irappa Gurav

Secretary for Shree Chourashidevi Education & Social Foundation 

Khanapur

Mob No 9972792971

 

 

 

Submitted by ashraf mansuri (not verified) on Sun, 09/24/2017 - 18:47

Permalink

amran nadi nagod me gandgi ka ambar hai nadi me 25 varshon se lagatar gandgi ho rahi hai, mare mavwesi, gande nalon ki gandgi aur sthaniy logo ke dwara nadi me gandgi karna , yahi nagod ki nadi ki pahchan hai mai chahta hun ki nagod ki ye marti hui nadi ko naya jiwan mil jaye

kya nagod nagar me trees lagane ke liye bhopal se loog ayenge please nagod ke nagrikon ko jagruk kiya jaye ki wo sskiy bhumi me uchit sthan par trees lagaye

Submitted by Sir I want mor… (not verified) on Tue, 05/29/2018 - 16:51

Permalink

In future if World War repeat it will be on water

Add new comment

This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.

18 + 2 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.

More From Author

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा