देश के वृहद नदी बेसिन

Submitted by admin on Wed, 09/10/2008 - 20:17
Printer Friendly, PDF & Email

भारत में नदियों की भरमार है। 252.8 मिलियन हैक्टेयर (एमएचए) के आवाह क्षेत्र सहित 12 नदियां वृहद नदियों के रूप में वर्गीकृत हैं। वृहद नदियों में गंगा-ब्रह्मपुत्र मेघना प्रणाली, जिसका आवाह क्षेत्र लगभग 110 मिलियन हैक्टेयर है जो कि देश की सभीवृहद नदियों के आवाह क्षेत्र के 43 प्रतिशत से बढ़ कर है सबसे विशाल प्रणाली है। 10 मिलियन हैक्टेयर से अधिक के आवाह क्षेत्र सहित अन्य वृहद नदियां इस प्रकार हैं सिंधु (32.1 मिलियन हैक्टेयर), गोदावरी (31.3 मिलियन हैक्टेयर), कृष्णा (25.9 मिलियन हैक्टेयर) तथा महानदी (14.2 मिलियन हैक्टेयर)। मध्यम आकार की नदियों का आवाह क्षेत्र लगभग 25 मिलिनय हैक्टेयर है तथा 1.9 मिलियन हैक्टेयर के आवाह क्षेत्र सहित सुबर्णरेखा देश की मध्यम आकार की नदियों में सबसे विशाल नदी है।

देश के वृहद नदी बेसिन
 

क्रम संख्या

नदी का नाम

उद्गम 

लम्बाई (किलोमीटर)

आवाह क्षेत्र (किलोमीटर)

1.
सिंधु
 
मानसरोवर (तिबत)
1114 
 
321289
 
2.
(a.) गंगा
गंगोत्री (उत्तर काशी)
2525
 
861452
 
 
(b.) ब्रह्मपुत्र
कैलाश पर्वत (तिबत)
916  
194413  
 
(c.) बराक तथा मेघना में गिरने वाली अन्य नदियां जैसे कि गोमती, मुहारी, फेन्नी आदि
 
  
41723  
3.
साबरमती
अरावली पर्वतमाला (राजस्थान)
371 
21674 
4.
माही
 
धार (मध्य प्रदेश)
583 
34842 
5.
नर्मदा
 
अमरकण्टक (मध्य प्रदेश)
1312 
98796 
6.
तापी
 
बेतुल (मध्य प्रदेश)
724 
65145 
7.
ब्राह्मणी
 
रांची (बिहार)
799 
39033 
8.
महानदी
 
नाजरी टाउन (मध्य प्रदेश)
851 
141589 
9.
गोदावरी
 
नासिक (महाराष्ट्र)
1465 
312812 
10.
कृष्णा
 
महाबलेश्र्वर (महाराष्ट्र)
1401 
258948 
11.
पेन्नार
 
कोलार (कर्नाटक)
597 
55213 
12.
कावेरी
दुर्ग (कर्नाटक)
800 
81155
 
योग
 
2528084

 

More From Author

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा