बाढ़ नियंत्रण

Submitted by admin on Tue, 09/09/2008 - 10:42
बाढ़ का अर्थ है किसी भी नदी/नाले में पानी का अत्यधिक बहाव होना जिसके कारण पानी (अपवाह) का नदी के किनारों से बाहर बहकर आसपास की भूमि को जलमग्न करना। बाढ़ के कारण जानमाल की हानि, संचार सेवाओं में अवरोध, फसलों का नष्ट होना, बीमारियों का प्रसार आदि अनेकों समस्याएं पैदा हो जाती है।

बाढ़ नियंत्रण के मुख्य उपाय हैं -

नदी के जलागम क्षेत्र में उपयुक्त भूमि एवं जल संरक्षण उपायों को करना, ताकि अपवाह अनियंत्रित न हो सके। नदी में जल के प्रवाह को नदी के किनारों पर ऊंचे बांध/पुस्ते बनाकर बीच में बनाए रखना ताकि पानी दूर तक न फैल सके। नदी/नालों की जल निकास क्षमता को बीच में गहरा करके बढ़ाना, घूमती हुई नदियों को सीधा करना आदि। नदियों के ऊपरी भाग में जलाशय आदि संरचना बनाकर अपवाह की तीव्रता कम करना ।

Disqus Comment