पर्यावरण संरक्षण के लिए जरूरी है लोक भाषाओं का डिजिटलाइजेशन: राजनारायण शुक्ला

Submitted by HindiWater on Mon, 03/01/2021 - 17:28
Source
इंडिया हिंदी वाटर पोर्टल

उत्तर प्रदेश भाषा संस्थान के अध्यक्ष राज नारायण शुक्ला के साथ हिंदी होटल  पोर्टल की बातचीत हुई जिसमें उन्होंने पर्यावरण पर बोलते हुए का की पर्यावरण की चिंता देश के हर समाज और व्यक्ति को तो है लेकिन इसके लिए जरूरी है आज के डिजिटल युग में बोली भाषा के जरिए पर्यावरण के उस मुद्दे को सुना जाए जो एक दूसरे से अछूता है इस वक्त जरूरत है पर्यावरण की हर छोटी मोटी जानकारियां डिजिटल माध्यम से हर उस व्यक्ति तक पहुंचे जो उसकी अपनी भाषा है। यानी लोक भाषाओं की जानकारी को उन्होंने बेहद जरूरी बताया और इंडिया हिंदी वॉटर पोर्टल से कहा मुख्यमंत्री के निर्देश पर वह यह काम बड़ी ध्यानपूर्वक कर रहे है। ऐसे ही कुछ विशेष जानकारी के लिए आप देखिए उत्तरप्रदेश भाषा संस्थान  के अध्यक्ष राज नारायण का इंटरव्यू।

Disqus Comment