Critical flow in hindi (क्रांतिक प्रवाह)

Submitted by Hindi on Mon, 05/03/2010 - 14:30
1. खुले प्रणाल में द्रव के प्रवाह की वह स्थिति जबकि प्रवाह न तो बिल्कुल स्तरीय हो और न बिल्कुल प्रक्षुब्ध, वरन, दोनों के बीच हो।
2. तरल प्रवाह की वह दर जो तरल में ध्वनि की मात्रा के बराबर हो।

Disqus Comment