Escarpment in Hindi (कगार)

Submitted by Hindi on Sat, 04/10/2010 - 09:50

कगारः
एक लम्बा भृगु या अतिप्रवण ढाल जो एक ही सामान्य दिशा में पर्याप्त दूरी तक चला जाता है। यह भ्रंशन या अपरदन द्वारा निर्मित होता है।

एक अंतःस्थलीय भृगु अथवा खड़ा ढाल, किसी क्वेस्टा का खड़ा फलक, जो संभवतः किसी भ्रंश (fault) के परिणाम-स्वरूप निर्मित होता है। कभी-कभी यह क्वेस्टा के समरूप माना जाता है।

Disqus Comment