कुसौली : स्वच्छता से गांव में स्वावलंबन

Submitted by HindiWater on Fri, 09/27/2019 - 16:44
Source
पाञ्चजन्य, 8 सितम्बर 2019

कुसौली : स्वच्छता से गांव में स्वावलंबन।कुसौली : स्वच्छता से गांव में स्वावलंबन।

उत्तराखण्ड के अधिकांश गाँव जहाँ पलायन से खाली हो रहे हैं, वहीं कुसौली के लोग अपनी जड़ों की ओर लौट रहे हैं। गाँव में रोजगार मिल रहा है, लोग स्वावलंबी बन रहे हैं।

पिथौरागढ़ का गाँव कुसौली उत्तराखण्ड का एक निर्मल गाँव है। चीन-नेपाल की सीमा से सटे 222 परिवारों वाले कुसौली में स्वच्छता का आलम यह है कि यहाँ कोई भी कागज का टुकड़ा तक इधर-उधर नहीं फेंकता। जिला मुख्यालय के नजदीक सैन्य इलाके से लगते ग्राम पंचायत कुसौली की आबादी 2011 में करीब 1100 थी, जो 3,500 हो गई है। गाँव से पलायन करने वाले अधिकतर परिवार वापस लौट आए हैं। गाँव के विकास में सेना का भी योगदान है।

कुसौली में हर घर के आगे दो कूड़ेदान हैं। तो आठ स्थानों पर सार्वजनिक कूड़ेदान हैं। यहाँ जैविक खाद तैयार करने के लिए 80 वर्मी पिट तथा 25 सोकपिट बनाए गए हैं। गाँव से ऊपर पहाड़ी पर विख्यात कामाख्या देवी मन्दिर है, जो कुसौली ग्राम पंचायत के अन्तर्गत आता है। यहाँ रोजाना करीब 300 श्रद्धालु आते हैं। विशेष अवसरों पर यह संख्या काफी बढ़ जाती है। ग्राम प्रधान रघुवीर सिंह बताते हैं कि सरकार से मिलने वाले बजट का इस्तेमाल गाँव के विकास पर किया जाता है।

2015 में कुसौली शौच मुक्त गाँव घोषित हो चुका है। 2018 में इसे राज्य स्वच्छता गौरव पुरस्कार और केन्द्र सरकार से दीनदयाल राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार भी मिल चुका है। वे कहते हैं कि 2014 से पहले गाँव की स्थिति अच्छी नहीं थी। मन्दिर की सीढ़ियों पर भी कूड़ा बिखरा रहता था। साफ-सफाई के बाद हमने इस मार्ग पर आठ हैंगिग कूड़ेदान लगा दिए। साथ ही, मन्दिर मार्ग की नियमित सफाई के लिए मंगल दल गठित किया। मन्दिर आने वाले श्रद्धालुओं पर इसका सकारात्मक असर पड़ा। अब वे इन कूड़ादानों में ही कूड़ा डालते हैं।

रघुवीर बताते हैं कि यहाँ हर घर में पीने का साफ पानी मिलता है। सोलर पम्पिंग पेयजल योजना के तहत ग्रामीणों को पेयजल आपूर्ति की जाती है। यह लगातार किए जा रहे प्रयासों का नतीजा है कि भूजल स्तर में दोगुने से भी अधिक का इजाफा हुआ है। गाँव के सभी मार्गों पर टाइलें लगी हुई हैं। मच्छरजनित बीमारियाँ न फैलें, इसके लिए भूमिगत नालियाँ बनाई गई हैं। इसके अलावा, गाँव में कूड़े और गोबर से जैविक खाद तैयार की जाती है व पशु पालन को बढ़ावा दिया जा रहा है। बुनियादी सुविधाओं के साथ गाँव में शिक्षा और रोजगार की उचित व्यवस्था है ताकि लोग आजीविका के लिए पलायन न करें। निजी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को जो सुविधाएँ मिलती हैं, वही सुविधाएँ यहाँ के प्राथमिक विद्यालय में उपलब्ध हैं। इसके अलावा, गाँव में हर चार महीने में स्वास्थ्य शिविर लगाया जाता है। युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए पोल्ट्री फार्म खुलवाए गए हैं। साथ ही, पर्यटन और मनरेगा के तहत भी रोजगार मुहैया कराया जाता है।

 

TAGS

Prime Minister NarendraModi, swachh bharat abhiyan website, swachh bharat abhiyan pdf, project on swachh bharat abhiyan for students, swachh bharat abhiyan slogans, swachh bharat abhiyan speech, swachh bharat abhiyan drawing, advantages of swachh bharat abhiyan, swachh bharat abhiyan logo, swachh bharat mission pdf, swachh bharat mission urban ministry, swachh bharat mission ke brand ambassador, swachh bharat mission up, aim of swachh bharat abhiyan, outcome of swachh bharat abhiyan, swachh bharat abhiyan in bengali, implementation of swachh bharat abhiyan, odf toilet, odf panchayat, 100% odf states in india, odf india, list of odf state in india 2018, odf plus, odf urban, odf cities in india, harmful effects of open toilet, list of odf state in india 2018, percentage of toilets in india 2019, india toilet problem, percentage of toilets in india 2018, india toilet statistics 2018, first odf state in india, disadvantages of open toilets, examples of sanitation, importance of sanitation, what is environmental sanitation, types of sanitation, what is sanitation and its importance, importance of sanitation pdf, health and sanitation essay, environmental sanitation introduction, sanitation in india 2018, sanitation in india statistics, sanitation in india 2019, sanitation in india ppt, sanitation in india 2017, how to improve sanitation in india, right to sanitation in india, un report on sanitation in india, swacch bharat abhiyan kya hai, swachh bharat mission kya hai, swachh bharat mission in hindi, swachh bharat abhiyan in hindi, swachh bharat abhiyan wikipedia hindi, swachh survekshan 2019 logo, swachh survekshan 2019 ranking list, swachh survekshan grameen 2019, swachh survekshan 2020, swachh survekshan upsc, swachh survekshan 2018, swachh survekshan urban, swachh survekshan 2019 wikipedia, swachh survekshan 2020, swachh survekshan 2018, swachh survekshan 2017, swachh survekshan awards 2019, swachh survekshan 2019 logo, swachh survekshan 2019, swachh survekshan grameen 2019, swachh survekshan 2019 list, swachh survekshan 2017 results, swachh survekshan 2018 rankings swachh bharat abhiyan wikipedia, mahatma gandhi aur swachhta, kusauli village pithoragarh, kusauli, pithoragarh.

 

Disqus Comment