उत्तराखण्ड में प्राकृतिक स्रोत का साफ पानी घर पहुँचने तक गंदा

Submitted by HindiWater on Tue, 11/19/2019 - 12:48
Source
अमर उजाला, 19 नवम्बर 2019

उत्तराखण्ड के ज्यादातर स्थानों पर प्राकृतिक स्रोत से निकल रहा साफ पानी लोगों के घरों तक पहुँचने में दूषित हो रहा है। नालियों में बिछाई गई और क्षतिग्रस्त पेयजल लाइनों को इसका मुख्य कारण माना जा रहा है। जल संस्थान की राज्य स्तरीय लैब की मासिक रिपोर्ट के आधार पर इस तथ्य की तस्दीक की जा सकती है।
 
स्टेट लेबल वाटर क्वालिटी टेस्टिंग एंड मॉनिटरिंग लैब के पिछले तीन माह के आंकड़ों पर नजर डालें तो यह साफ हो जाता है कि उत्तराखण्ड में ज्यादातर प्राकृतिक स्रोत का पानी गंदा नहीं है। लेकिन यही पानी जब पेयजल लाइनों के जरिए लोगों के घरों तक पहुँचता है, तो इसमें कई तरह की गदंगी मिली होती है।
 
क्लोरीन से साफ होती है गदंगी

जल संस्थान अधिकारियों के मुताबिक स्रोत से जमा होने वाले पानी में सोडियम हाइपो क्लोराइड मिलाया जाता है। इसमें 11 से 12 प्रतिशत क्लोरीन होती है। यह पानी में घुलकर जीवाणुओं को समाप्त कर पानी साफ कर देता है। सभी स्थानों पर पानी साफ करने में फिलहाल इसी तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है।
 
पानी में जीवाणु ज्यादा

उत्तराखण्ड के ज्यादातर पहाड़ी इलाकों में स्थित जलस्रोतों में जीवाणुओं की संख्या ज्यादा होती है। कई इलाकों में लोग जल स्रोतों के पास शौच करते हैं, जिससे पानी दूषित हो जाता है। प्राकृतिक स्रोतों के पानी में ज्यादातर यही जीवाणु होते हैं।
 
घरों में गंदे पानी के प्रमुख कारण

  • क्षतिग्रस्त पेयजल लाइनें
  • नालियों में बिछाई गई लाइन
  • टंकियों में जमा गदंगी 

आप भी कराएँ पानी की जाँच

स्टेट लेवल वाटर क्वालिटी टेस्टिंग एंड मॉनिटरिंग लैब में कोई भी व्यक्ति अपने घरों में सप्लाई होने वाले पानी की जाँच करवा सकता है। इसके लिए निर्धारित शुल्क जमा कराना होता है। सैंपल लेकर खुद ही जमा कराना होगा, जिसकी जाँच के बाद लैब से उसकी रिपोर्ट प्राप्त की जा सकती है।
 
बोलते आँकड़े

माह   स्रोतों के सैंपल फेल घरों के सैंपल फेल
अगस्त 04 00 07 01
सितम्बर 03 00 15 05
अक्टूबर 03 00 19 16

 

TAGS

water crisis, water pollution, water contamination, water pollution in india, water pollution in uttarakhand, natural source water uttarakhand, natural source water polluted in uttarakhand, water quality india, jal shakti ministry, ground water.

 

Disqus Comment