Capillary potential in Hindi

Submitted by Hindi on Mon, 12/20/2010 - 12:30
Printer Friendly, PDF & Email
मृदा कण जल को जितने आकर्षण बल से रोके रहते हैं उसे मापने के लिए केशिकीय विभव प्रयुक्त होता है। साधारणतया इसको उस ‘कार्य’ के रुप में व्यक्त करते हैं जो जल को मृदा से बाहर केशिकीय बलों के विरुद्ध खींचने के लिए आवश्यक होगा।

Hindi Title

केशिकीय विभव