Bhimarathi river in Hindi

Submitted by Hindi on Wed, 01/19/2011 - 11:28
Printer Friendly, PDF & Email
सह्याद्री की दो भुजाओं के बीच बनी एक द्रोणी में भीमाशंकर का गुफा मंदिर है। उसी मंदिर के पीछे जो कुंड है वह भीमारथी नदी उद्गम स्रोत है। संक्षिप्त में भीमा (भीमारथी) पतली धार के रूप में पर्वत की ढलान से उतरती है। फिर वह नदी का आकार लेकर पूर्व की ओर बहती हुई रामचूर से सोलह मील उत्तर में पहुंचकर कृष्णा नदी में समा जाती है। भीमा पुण्य सरिताओं में मानी जाती है। कई पुराणों और महाभारत के भीष्म पर्व और वन पर्व में भीमारथी का वर्णन है। भीमारथी का उल्लेख महाराज कीर्तिवर्मा द्वितीय के वक्कलोरिदान पत्र (757 ई.) में भी है।

Hindi Title

भीमारथी नदी


अन्य स्रोतों से




संदर्भ
1 -

2 -