स्वामी दयानंद का अनशन

Submitted by admin on Sat, 10/17/2009 - 10:48

15 अक्टूबर से शुरू हुआ हरिद्वार में स्वामी दयानंद का अनशन एक बार फिर से गंगा की दुर्दशा को दर्शा रहा है। दो बार सरकार द्वारा खनन न करने के लिखित वादे देने के बाद भी 25 सितम्बर 2009, को फिर डीएम हरिद्वार ने अजीतपुर, मिसारपुर क्षेत्र में खनन खोलने का आदेश दे दिया है। अपनी जिम्मेवारी से बचने के लिए डीएम का कहना है कि यह आयुक्त का आदेश है।

पिछले जनवरी 2009 में 30 दिन के करीब मातृ सदन हरिद्वार में स्वामी दयानन्द जी का अनशन हुआ था। जिनकी मुख्य मांग हरिद्वार में हो रहे गंगा के ढांगों में खनन को बन्द करवाने के लिए थी। स्वामी दयानंद ने 30 दिन उपवास किया और कमिश्नर ने खनन रोकने का आदेश दिया।

इसके पहले भी मातृ सदन के स्वामी निगमानंद द्वारा 73 दिन का अनशन 20 /1/2008 से 1/4/2008 तक चला था। स्थिति खराब होने पर भाजपा की खण्डूरी सरकार द्वारा लिखित समझौता हुआ और खनन बंद हो गया। परंतु सरकार ने वायदा खिलाफी की एवं धोखाधड़ी करते हुए 10 महीने बाद 4/2/09 से दोबारा खनन खोल दिया। 2008 में स्वामी निगमानंद सरस्वती ने अजीतपुर और मिसारपुर, हरिद्वार के कुंभ क्षेत्र को बचाने के लिए 73 दिनों के लिए उपवास किया था। 69वें दिन, तत्कालीन आयुक्त श्री सुभाष कुमार ने चालबाजी से मातृ सदन को बताया कि ये क्षेत्र कुंभ क्षेत्र में नहीं हैं। खैर जो भी रहा, उत्तराखंड में खंडूरी सरकार ने खनन बंद कर दिया था।

बार-बार अपने जान की परवाह न कर, गंगा की रक्षा के लिए लम्बे अनशन का परिणाम हो रहा है कि स्वामी दयानंद जी के शरीर के कई अंग अशक्त हो चुके हैं। कृपया जल की रक्षा करने वाले इस संत की तपस्या में अपना समर्थन दें।

हरिद्वार में सैकड़ों ट्रैक्टर, ट्रक, जेसीबी मशीन से भयंकर खनन से गंगा भयानक रूप से प्रदूषित हो रही है। कई तटों एवं द्वीपों का विनाश हो चुका है। और यह खनन लगातार जारी है।अजीतपुर, मिसारपुर और आसपास के क्षेत्रों की गंगा में 20 से 30 फीट तक खोदा जा चुका है। आसपास के क्षेत्र और द्वीप नष्ट किए जा रहे हैं। वन, घास का सफाया किया जा रहा है।

1- मुख्य मंत्री उत्तराखण्ड को फैक्स करें - नं 0135 -2755102
2- प्रधान मंत्री एवं अध्यक्ष गंगा बेसिन प्राधिकरण को फैक्स करें - नं 011 23019545, 23016857

Tags - Mining in Ganga, Mother House (Matri sadan), Haridwar, Swami Dayanand, destruction of beaches and islands. Knduri BJP government, the protection of water in Hindi
Disqus Comment

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा