जल चक्र

Submitted by Hindi on Fri, 09/07/2012 - 11:22
Printer Friendly, PDF & Email
Source
यू-ट्यूब

जल की एक मुख्य विशेषता यह है कि यह अपनी अवस्था आसानी से बदल सकता है। यह ग्रह पर अपनी तीन अवस्थाओं, ठोस, द्रव तथा गैस के रूप में आसानी से प्राप्त हो जाता है। पृथ्वी पर जल की मात्रा सीमित है। जल का चक्र अपनी स्थिति बदलते हुए चलता रहता है जिसे हम जल चक्र अथवा जलविज्ञानीय चक्र कहते हैं। जलीय चक्र की प्रक्रिया जल-मंडल, एक ऐसा क्षेत्र है जहाँ वातावरण तथा पृथ्वी की सतह का सारा जल मौजूद होता है। इस जलमंडल में जल की गति ही जल चक्र कहलाता है।
 

More From Author

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा