आदर्श बनेगा मेरठ का पूठी गांव

Submitted by Hindi on Fri, 05/10/2013 - 13:06

नीर फाउंडेशन और प्रशासन ने मिलकर किए प्रयास


नीर फाउंडेशन द्वारा अपने पर्यावरण हितैषी अभियान को आगे बढ़ाते हुए आदर्श गांव परियोजना का प्रारंभ किया गया है। इस परियोजना में मेरठ जनपद के पांच गाँवों (पूठी, खटकी, मवी, भूनी व लाहौरगढ़) को सम्मिलित किया गया है। इस परियोजना का प्रारंभ आज पूठी गांव से किया गया है। इस परियोजना के तहत विभिन्न प्रकार की पर्यावरणीय व अन्य समाधान संबंधी गतिविधियाँ समय-समय पर गांव में आयोजित की जाएंगी। इसमें गांव के सम्पूर्ण विकास पर जोर दिया जाएगा। संस्था का प्रयास होगा कि गांव पूर्णतः आत्मनिर्भर बने तथा देश व दुनिया में एक मिशाल पेश करे।

नीर फ़ाउंडेशन के निदेशक रमन त्यागी ने बताया कि गांव को आदर्श की सूची में लाने के लिए संस्था विभिन्न सरकारी व गैर-सरकारी संगठनों व संस्थाओं से मदद भी लेगी। यह मदद राष्ट्रीय व अन्तरराष्ट्रीय दोनों स्तर की होगी। सरकारी व गैर-सरकारी योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक इन गाँवों को दिलाया जाएगा। गांव में नालियां, सड़कें व अन्य मूलभूत ज़रूरतों को पूरा करने का कार्य किया जाएगा। इसमें गाँवों के तालाबों को अतिक्रमण मुक्त कराकर उनको साफ-सुथरा बनाना, जैविक खेती को बढ़ावा देना, जल संरक्षण को बढ़ावा देना, खेलों को बढ़ावा देना, युवाओं को उनके कैरियर बनाने के लिए सलाह केंद्र की स्थापना, ई-चौपाल, सौर ऊर्जा को बढ़ावा देना, विलेज नॉलेज सेंटर बनाना व सेनिटेशन आदि के कार्यों को बढ़ावा देना। उपरोक्त कार्यों के माध्यम से गांव को संवारने का प्रयास किया जाएगा।

आदर्श गांव परियोजना के तहत आज पूठी में मेरठ के मण्डलायुक्त श्री मृत्युंजय कुमार नारायण व जिलाधिकारी श्री नवदीप रिनवा द्वारा जन सुविधा केंद्र का उद्घाटन किया गया। जन सुविधा केंद्र में गांववासी तहसील से होने वाले कार्य गांव में ही करा सकेंगे। इसके तहत फरद, आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र व अन्य सुविधाओं का लाभ ले सकेंगे।

मण्डलायुक्त व जिलाधिकारी ने संस्था द्वारा यहां बनाए गए ग्रामीण जल केंद्र का भी उद्घाटन किया। इसके तहत यहां पर वर्षाजल संरक्षण किया गया है। इसमें कोई भी गांववासी यहां आकर वर्षाजल संरक्षण की जानकारी प्राप्त कर सकता है तथा उसके विषय में पढ़ सकता है। इस मॉडल से एक वर्ष में करीब 60 हजार लीटर पानी बचाया जाता है। देश के किसी भी गांव में पहली बार वर्षाजल संरक्षण की सुविधा बनाई गई है। यहां शीघ्र ही एक पुस्तकालय भी खोला जाएगा।

मण्डलायुक्त व जिलाधिकारी द्वारा पूठी सचिवालय पर वृक्षारोपण भी किया गया। इस दौरान जिला गन्ना अधिकारी श्री डी.सी राय, मवाना सुगर मिल के उपाध्यक्ष श्री कुलदीप कुमार, डीसीओ फोरेस्ट, चीफ मेडिकल ऑफिसर अमीर सिंह, उपजिलाधिकारी शिवकुमार व अन्य अधिकारियों सहित ने इस अवसर पर आदर्श गांव परियोजना का प्रारंभ भी किया।

रमन त्यागी ने सभी अधिकारियों से गांव को मदद करने का आग्रह किया। इसमें डीएसओ फोरेस्ट ने कहा कि वन महोत्सव के दौरान अधिक से अधिक वृक्षारोपण गांव में कराया जाएगा। मवाना सुगर मिल के उपाध्यक्ष कुलदीप कुमार से कारपोरेट सोसल रेस्पांन्सिबिलिटी के तहत गांव में एक खबर घर, रिसर्च सेंटर व अन्य कार्य कराए जाएंगे। गन्ना विभाग से उच्चतम क्वालिटि के गन्ना बीज उपलब्ध कराएगा। कृषि विभाग अपनी योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक गांव को देगा तथा गौ-पशु निदेशालय गांव में एक गाय का रिसर्च सेंटर स्थापित करेगा। इसके अतिरिक्त सभी विभाग गांव को मदद करेंगे।

इस अवसर पर गांव को एक ही दिन में अपनी योजनाओं से लाभान्वित करने के लिए गन्ना विभाग, मवाना सुगर मिल, कृषि विभाग, पशुपालन विभाग, लघु सिंचाई विभाग, गौ-पशु निदेशालय, नेडा व सोलर एनर्जी आदि ने अपने स्टॉल लगाए। सभी गांववासियों ने इन स्टॉल पर आकर विभाग की योजनाओं की जानकारियाँ प्राप्त कीं तथा उनका लाभ उठाया।

Disqus Comment

More From Author

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा