कृषि नीति और खाद्य सुरक्षा से जुड़े विषयों के जाने माने विशेषज्ञ डा.देविंदर शर्मा के साथ संवाद

Submitted by Hindi on Sun, 06/02/2013 - 10:38

06 जून 2013 को जरूर आईये/ भोपाल


विकास संवाद समय-समय पर विभिन्न मसलों के विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में मीडिया-कर्मियों के साथ संवाद का आयोजन करता रहा है। यह हम सभी का अपना फोरम है। इसमें हमने देश और समाज के सामने मौजूद मुद्दों पर अपनी राय रखी है, साथ ही इन्‍हें गहराई से समझा भी है।

आगामी छह जून 2013 को कृषि और विश्‍व व्‍यापार मामलों के विशेषज्ञ देविंदर शर्मा भोपाल में होंगे। उनकी मौजूदगी पर विकास संवाद ने आप सभी मीडिया के साथियों के साथ ‘कृषि की मौजूदा बदहाली और खाद्य सुरक्षा – उपज के बाजार मूल्‍यों को प्रभावित करती नीतियां (सरकारी हस्‍तक्षेप के बरक्‍स)’ विषय पर एक अनौपचारिक संवाद का आयोजन किया है।

जैसा कि हम जानते हैं कि सरकारी समर्थन से देश में गेहूं-चावल की पैदावार तो लगातार बढ़ रही है, लेकिन दाल, तिलहन, ज्‍वार-बाजरा और बारीक अनाजों को सरकार की ओर से कोई प्रोत्‍साहन नहीं मिल रहा है। रासायनिक खाद और कीटनाशकों को लगातार बढ़ावा मिलते रहने से खेती की लागत भी बढ़ रही है। सरकार ने संसद में खाद्य सुरक्षा विधेयक पेश कर दिया है। इसमें नकद राशिके हस्‍तांतरण की बात है। जाहिर है सरकार किसानों से अनाज खरीदी की व्‍यवस्‍था को भी बाजार की ओर धकेलने की फिराक में है। इन जटिल हालात में हमारे सामने कई गंभीर सवाल मौजूद हैं, जैसे क्‍या सरकार की नीति समूची कृषि व्‍यवस्‍था के निजीकरण/अनुबंध आधारित करने की कोशिश में है? क्‍याखेती को बाजार के हवाले करने से खाद्य सुरक्षा और गरीब, सर्वहारा वर्ग को पोषण के अधिकार का हनन नहीं होगा?

इस तरह के और भी कई सवाल आपके मन में भी उठेंगे। तो क्‍यों न गुरुवार 6 जून 2013 को देविंदर शर्मा जी के साथ बैठकर इन पर मंथन किया जाए ?

हमें पूरा विश्‍वास है कि इस आयोजन से हम सभी को लाभ होगा।

विनम्र आग्रह के साथ, आपका, सौमित्र, 8889104455
दिनांक : 6 जून 2013, गुरुवार
समय : सुबह 11 से 2 बजे भोजनकाल तक
स्‍थान : रॉयल विलास, सरगम टॉकीज के बगल में, जोन-2 एमपी नगर, भोपाल

Disqus Comment