राजस्थान में फ्लोराइड की विभीषिका

Submitted by admin on Mon, 02/10/2014 - 16:01
Source
ग्रामीण विकास विज्ञान समिति
आजादी के बाद राजस्थान को 41 वर्ष अकाल की स्थिति का सामना करना पड़ा है। मानसून की असफलता के कारण पानी के स्रोत सूख गए हैं। बढ़ती जनसंख्या एवं भूजल पर बढ़ती निर्भरता से अत्यधिक पानी के लिए गहरी खुदाई की जा रही है, जिसके परिणामस्वरूप भूजल स्तर प्रतिवर्ष घट रहा है। सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं द्वारा इस संदर्भ में विभिन्न अध्ययन किए जा चुके हैं, परंतु ये अध्ययन शीघ्र ही पुराने हो जाते हैं क्योंकि फ्लोराइड प्रभावित गाँवों की सूची में सतत् नए गांव जुड़ते जा रहे हैं। हीरे के आकार का राजस्थान देश के भौगोलिक क्षेत्र के 10 प्रतिशत भाग अर्थात 3.42 लाख वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है एवं देश की जनसंख्या की 5.2 प्रतिशत जनता राजस्थान में निवास करती है। राजस्थान का निर्माण विभिन्न छोटी-बड़ी रियासतों एवं तीन प्रधान रियासतों के विलय से हुआ है। सभी रियासतें क्षेत्रफल, आकार, जनसंख्या, सामाजिक एवं आर्थिक रुप से भिन्न थी। वर्तमान में प्रशासनिक रूप से राजस्थान राज्य को 32 जिलों, 105 उपभागों, 241 तहसीलों एवं 237 पंचायत समितियों में विभाजित किया गया है परंतु राजस्थान की भौगोलिक परिस्थितियां, जैसे विशाल क्षेत्रफल, अनियमित एवं न्यूनतम वर्षा एवं अपर्याप्त जलस्रोत की वजह से पानी की ज़रूरतों की आपूर्ति के लिए दूसरे राज्यों पर निर्भर है।

राजस्थान एक कृषि प्रधान राज्य है एवं 60 प्रतिशत से अधिक लोगों की आजीविका कृषि पर आधारित है। राज्य की जनसंख्या के बड़े भाग में किसान एवं खेतीहर श्रमिक बहुतायत में हैं। अल्प एवं अनियमित वर्षा के कारण देश का सर्वाधिक सूखा क्षेत्र राजस्थान में दृष्टिगत होता है। लगातार वर्षा की कमी से क्षेत्र में अकाल की स्थिति के कारण राज्य में आर्थिक अस्थिरता बनी रहती है।

वर्षा की कमी के कारण वांछित उत्पादन में कमी, चारा व पेयजल का अभाव, घटता पशुधन व बढ़ती बेरोज़गारी के कारण मनुष्य एवं पशुओं को जीवन निर्वाह के लिए कठोर शारीरिक श्रम करना पड़ता है। लगातार अकाल की स्थिति ने पश्चिमी राजस्थान से लोगों और पशुओं को अन्य राज्यों में पलायन करने हेतु मजबूर किया है। पिछले 20 वर्षों में राजस्थान में अकाल की स्थिति को सारिणी 2.1 में दर्शाई गई है।

सारिणी 2.1 राजस्थान में आकाल की स्थिति (1981 – 2000)


वर्ष

प्रभावित जिले (संख्या)

प्रभावित गाँव (संख्या)

प्रभावित जनसंख्या (लाख)

1981-82

26

23246

200.12

1982-83

26

22606

171.62

1983-84

अप्रभावित

अप्रभावित

अप्रभावित

1984-85

21

10276

92.02

1985-86

26

26859

219.8

1986-87

27

31936

252.7

1987-88

27

38252

317.37

1988-89

17

4497

43.45

1989-90

25

14024

120.67

1990-91

अप्रभावित

अप्रभावित

अप्रभावित

1991-92

30

30041

289.00

1992-93

12

4376

34.66

1993-94

25

22586

246.81

1994-95

अप्रभावित

अप्रभावित

अप्रभावित

1995-96

29

25478

273.82

1996-97

21

5905

55.29

1997-98

24

4643

14.91

1998-99

20

20069

215.07

1999-2000

26

23406

261.79

2000-2001

31

30583

330.41

 



जनसांख्यिकी की दृष्टि से राजस्थान देश का सर्वाधिक चिंतनीय राज्य है। राज्य की जनसंख्या वृद्धि दर तीव्र है। राजस्थान की जनसंख्या लगभग 5.6 करोड़ है एवं जनसंख्या में प्रति वर्ष करीब 12 लाख की वार्षिक वृद्धि होती है। राज्य का लिंग अनुपात 1000 पुरुषों की तुलना में 912 महिलाएं हैं, यह राष्ट्रीय लिंग अनुपात (927) से कम है। राज्य में कुल जनसंख्या की अपेक्षा बाल जनसंख्या (0-9 वर्ष) का प्रतिशत 26.4% है। जबकि संपूर्ण भारत में यह स्तर 24.9% है। यह अनुपात राज्य में उच्च शिशु जन्म दर को दर्शाता है, राजस्थान में महिला साक्षरता का स्तर न्यूनतम है। राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में शादी कम उम्र में कर द जाती है। लगभग 40% लड़कियों की शादी 15-19 वर्ष की उम्र में हो जाती है। परिणामस्वरूप कम उम्र में गर्भावस्था, जटिलताएं एवं प्रसव अवस्था में मातृ-मृत्यु की संभावनाएं भी बढ़ जाती है।

आजादी के बाद राजस्थान को 41 वर्ष अकाल की स्थिति का सामना करना पड़ा है। मानसून की असफलता के कारण पानी के स्रोत सूख गए हैं। बढ़ती जनसंख्या एवं भूजल पर बढ़ती निर्भरता से अत्यधिक पानी के लिए गहरी खुदाई की जा रही है, जिसके परिणामस्वरूप भूजल स्तर प्रतिवर्ष घट रहा है। सरकारी एवं गैर-सरकारी संस्थाओं द्वारा इस संदर्भ में विभिन्न अध्ययन किए जा चुके हैं, परंतु ये अध्ययन शीघ्र ही पुराने हो जाते हैं क्योंकि फ्लोराइड प्रभावित गाँवों की सूची में सतत् नए गांव जुड़ते जा रहे हैं। सारिणी 2.2 भूजल में उच्च फ्लोराइड की मात्रा वाले जिलों एवं पंचायत समितियों को दर्शाती है एवं सारिणी 2.3 भूजल में निम्न फ्लोराइड वाले जिलों एवं पंचायत को दर्शाती है।

सारिणी 2.2 – क्षेत्रवार भूजल में उच्च फ्लोराइड की मात्रा


जिला/पंचायत समिती

कुल परिवारों की संख्या

फ्लोराइड युक्त गाँवों की संख्या

 

 

फ्लोरोसिस में प्रभावित परिवार

औसत परिवार की संख्या

कुल गांव

लिंगानुपात

अनुजाती (प्रतिशत)

अनुजनजाती (प्रतिशत)

 

 

1.5-5 पी.पी.एम

5.1-10 पी.पी.एम

10.1 से अधिक

 

 

 

 

 

 

अजमेर

          

अरांई

17597

65

12

15

12604

137

128

941

20.65

2.47

भिनाय

21765

49

14

13

13756

181

120

936

20.51

4.27

जवाई

22713

46

08

14

7888

116

195

987

10.45

0.59

केकड़ी

20742

51

21

06

17004

218

95

943

23.3

12.3

किशनगढ़

19434

32

03

08

7310

170

114

912

20.64

0.6

मसूदा

22914

21

01

05

4401

163

140

919

12.33

3.2

   

274

49

61

62963

 

792

  

बाँसवाड़ा

          

आनन्दपुरी

14325

43

05

11

6844

116

123

963

2.6

92.84

बागीडोरा

23610

37

11

14

10478

169

137

971

5.21

76.78

गारही

32072

46

12

16

14282

193

166

973

7.65

55.71

घाटोल

31599

19

 -

02

2982

142

222

986

5.8

77.57

कुशलगढ़

16684

26

 -

05

2449

79

210

966

1.26

94.63

पीपलखुर्द

19504

79

24

27

12870

99

197

971

4.19

93.43

सज्नजगढ़

16

838

62

11

19

8280

90

186

957

3.49

88.91

तलवाड़ा

28331

69

36

31

17408

128

221

989

4.59

78.68

   

381

99

125

75863

 

1462

  

भरतपुर

          

बयाना

22552

12

-

-

1536

128

175

787

27.4

3.09

डीग

18285

26

-

02

3864

138

132

817

18.97

0.43

काँमा

22602

25

-

01

2886

111

204

863

9.37

0.21

कुम्हेर

18338

11

-

-

1705

155

118

826

20.39

2.47

नदबई

1844

13

-

04

2703

159

116

819

23.42

2.86

नाँगल पहाड़ी

26120

29

-

-

3335

115

227

849

15.05

1.73

रूपभास

24510

43

-

-

6708

156

157

817

25.8

1.09

सेवर

19203

11

-

-

1199

109

175

822

25.95

1.49

वैर

23688

26

-

-

4082

157

150

824

26.58

9.76

   

196

-

07

28018

 

1454

  

अलवर

          

बहरोड़

17117

44

-

02

8740

190

90

932

14.87

1.09

कठुमर

24413

44

-

-

6688

152

160

837

17.94

13.26

लक्ष्मणगढ़

25833

56

-

08

8896

139

185

881

15.37

11.73

मंडावर

23502

24

-

 

3960

165

142

916

19.43

2.91

राजगढ़

16670

39

-

04

4859

113

147

881

18.18

29.57

रामगढ़

23667

57

-

11

9384

138

171

878

19.15

3.59

रैणी

14965

39

-  

16

8085

147

102

880

18.27

36.93

  

303

-

41

50612

 

997

   

बाड़मेर

          

बालोतरा

30908

61

11

18

14490

161

192

919

13.57

8.52

बयाटू

24730

48

24

36

10800

100

248

919

14.53

3.38

चोहटन

30246

74

05

13

16468

179

169

873

23.31

9.82

धोरीमगरा

28959

57

08

12

8855

115

252

911

14.46

5.4

शिव

21063

63

-

-

7875

125

168

825

16.26

3.66

सिंधरी

26581

11

-

-

1221

111

240

914

11.87

2.72

सिवाना

22443

25

-

-

5725

229

98

938

17.35

9.37

  

339

48

79

65434

 

1367

   

भीलवाड़ा

          

आसिन्द

29617

152

12

38

29492

146

203

987

15.22

7.05

हुरदा

10597

11

-

-

1661

151

70

929

16.81

7.13

जहाजपुर

25577

12

-

-

1596

133

192

915

17.98

35.41

कोटरी

22811

24

-

-

3744

156

146

923

17.96

5.34

माँडल

28273

112

18

32

28273

174

162

996

16.25

5.07

माँडलगढ़

30835

42

-

-

4410

105

292

901

17.69

14.44

रायपुर

13646

31

-

-

4743

153

89

1017

15.83

5.87

शाहपुरा

22242

15

-

-

2160

144

154

941

21.97

9.61

सुवाना

24703

31

-

-

5828

188

131

959

18.54

4.32

  

430

30

70

81822

 

1439

   

बीकानेर

          

बीकानेर

35714

25

-

-

5225

209

171

867

25.75

0.3

कोलायत

20335

12

-

-

1188

99

206

876

24.72

0.16

लूणकरणसर

22416

12

-

-

1848

154

145

903

20.53

0.25

नोंखा

28674

36

-

-

8064

224

128

925

20.87

0.02

  

85

-

-

16325

 

650

   

चित्तौड़गढ़

          

अरनौद

16827

41

-

-

3977

97

174

968

6.02

82.55

बेगुन

17720

31

-

-

2170

70

252

948

17.41

11.64

चित्तौड़गढ़

26641

11

-

-

1276

116

229

960

17.82

12.74

डुंगला

15759

11

-

-

1606

146

108

977

15.37

13.66

राश्मि

13433

21

-

-

3171

151

89

1002

21.63

5.58

  

115

-

-

12200

 

852

   

धौलपुर

          

बासेरी

21788

41

-

12

9010

170

128

789

21.33

14.73

धौलपुर

27455

44

-

-

7612

173

158

797

20.05

0.01

राजाखेड़ा

20647

46

-

 

6256

136

152

785

19.24

0.01

  

131

-

12

22878

 

438

   

गंगानगर

          

सूरतगढ़

42136

107

16

24

7938

54

773

851

30.11

0.17

  

107

16

24

7938

 

773

   

जयपुर

          

चाकसू

17969

136

23

38

13593

69

258

908

20.36

22.56

बस्सी

2286

74

12

45

14279

100

209

902

20.85

32.95

दूदू

30088

48

18

44

15730

143

210

914

19.67

3.19

फागी

18921

52

16

27

10640

112

168

905

21.93

4.09

सांभर

21031

46

18

24

12936

147

143

930

15.97

4.07

सांगानेर

21198

51

21

24

9888

103

205

893

21.53

13.09

  

407

108

202

79066

 

1193

   

बूंदी

          

हिन्डोली

26624

44

10

15

10350

150

174

891

18.86

18.15

नैनवा

21618

38

-

-

4598

121

178

885

18.01

22.38

  

82

10

15

14948

 

352

   

चूरू

          

चूरू

18345

39

-

12

9180

180

102

956

22.03

1.06

रतनगढ़

18811

34

-

11

8640

192

98

936

22.06

0.41

तारानगर

17791

49

-

21

10220

146

122

948

21.2

0.45

  

122

-

44

28040

 

322

   

डूंगरपुर

          

आसपुर

28304

44

-

8

10192

196

144

1052

6.12

48.5

बिच्छीवाड़ा

30699

26

-

-

4576

176

174

976

2.92

83.11

डूंगरपुर

23731

47

-

-

7050

150

158

1021

2.85

81.1

सागवाड़ा

28483

33

-

-

6105

185

154

1020

5.1

54.01

सीमलवाड़ा

32381

18

-

-

2546

147

220

966

4.88

75.87

  

168

-

8

30569

 

850

   

दौसा

          

बांदीकुई

28177

41

16

27

11424

136

207

885

20.65

20.24

दौसा

30860

78

24

36

19320

140

221

887

22.15

30.91

लालसोट

26683

55

23

32

10010

91

293

895

21.41

40.43

सिकराय

24664

42

10

14

10824

164

150

893

22.07

24.54

  

216

73

109

51578

 

871

   

जैसलमेर

          

जैसलमेर

14442

58

05

15

7332

94

153

779

17.6

7.07

सैम

16471

103

22

37

9072

56

292

793

16.8

4.12

संकड़ा

18797

50

-

22

8601

141

133

858

12.7

4.54

  

211

27

63

25005

 

578

   

जालौर

          

आहोर

28128

44

-

15

15340

260

108

985

19.28

11.49

सांचोर

41023

74

14

29

26676

228

180

924

17.34

4.42

सायाला

27568

46

-

13

21112

358

77

955

20.18

7.11

  

164

14

57

63128

 

365

   

झालावाड़

          

बकानी

20634

4

-

-

252

63

325

920

12.85

13.85

डाग

23125

26

-

-

2600

100

231

938

23.9

0.5

झालरापाटन

26438

6

-

-

504

84

315

919

18.85

16.16

खानपुर

19172

7

-

-

658

94

204

897

19.78

14.81

मनोहरथला

21767

42

 

-

3108

74

294

938

10.82

26.56

पिरावा

21370

15

-

-

1485

99

216

930

19.45

6.7

  

100

-

-

8607

 

1585

   

जोधपुर

          

बाप

15825

49

-

-

8330

170

93

883

15.98

3.47

भोपालगढ़

25855

42

-

11

16324

308

84

930

18.88

0.93

बीलाड़ा

24229

45

-

-

13590

302

80

919

22.02

0.49

मण्डोर

17137

42

-

15

9234

162

106

905

15.16

3.36

ओसीया

45788

77

-

-

21098

274

167

914

16.46

3.31

फलौदी

23763

39

-

-

10764

276

86

916

14.78

3.57

  

294

-

26

79340

 

616

   

नागौर

          

डेगाना

25241

68

11

17

16032

167

151

957

21.3

0.07

डीडवाना

31812

42

23

39

19552

188

169

982

19.14

0.11

जायल

26771

60

12

16

1776

202

132

953

23.05

0.01

कुचामन

29391

39

14

17

14070

201

146

943

20.19

1.39

लाडनू

18018

34

-

15

9114

186

97

977

20.36

0.14

मकराना

23334

37

-

17

10476

194

120

951

23.12

0.07

मेड़ता

23597

38

18

29

19635

231

102

918

20.36

0.25

नागौर

26202

50

11

17

14898

191

137

934

19.38

0.02

परबतसर

22200

54

-

14

13940

205

108

941

21.04

0.07

रियान

24473

51

-

18

13731

199

123

939

21.64

0.06

  

473

89

199

149224

 

1285

   

पाली

          

देसूरी

16703

25

11

16

11388

219

76

1006

19.2

4.86

रानी

17906

20

17

14

12495

245

73

1004

18.96

3.36

सुमेरपुर

21822

20

-

11

10416

336

65

967

18.17

12.91

पाली

28179

28

-

10

11894

313

90

986

17.16

25.08

  

93

28

51

46193

 

304

   

झुन्झूनू

          

अलसीसर

16571

27

-

-

3915

145

114

980

18.63

2.05

बुहाना

25860

15

-

-

3180

212

122

935

16.1

0.86

चिड़ावा

18154

41

-

05

10074

219

83

948

15.84

1.77

झुन्झूनू

24316

42

-

-

6552

156

156

966

18.69

3.09

खेतड़ी

25449

17

-

-

5406

318

80

887

12.19

2.90

नवलगढ़

26689

14

-

-

5264

376

71

959

12.71

2.39

सूरजगढ़

20667

43

08

16

11524

172

120

916

22.49

0.57

उदयपुरवाटी

27669

24

-

-

8184

341

81

948

10.93

3.51

  

223

08

21

54099

 

827

   

बारां

          

अन्ता

20095

59

-

-

7611

128

155

908

21.07

18.35

अटरू

18135

11

-

-

1452

132

137

893

22.6

18.45

बांरा

13606

17

-

-

2261

133

102

904

26.1

18.6

किशनगंज

18650

35

-

-

3220

92

203

901

12.9

34.17

शहाबाद

13491

15

-

-

855

57

236

876

15.96

34.72

छबड़ा

13508

11

-

-

770

70

192

883

17.28

22.47

  

148

-

-

16169

 

1025

   

कोटा

          

चेचट

22290

20

-

-

2740

137

162

884

27.54

11.96

  

20

-

-

2740

 

162

   

करौली

          

हिणडौन

29791

61

-

-

14396

236

126

833

30.84

16.94

करौली

25809

72

-

-

9144

127

203

817

22.06

19.4

नांदोती

15700

41

-

-

6847

167

94

863

18.86

24.25

सपोटरा

27340

81

-

-

9882

122

223

828

21.65

36.3

टोडाभीम

23648

66

-

-

10626

161

147

842

22.06

33.87

  

321

-

-

50895

 

793

   

सीकर

          

दांतारामगढ़

28405

61

-

-

12749

209

136

948

16.76

2.7

फतेहपुर

23893

67

-

-

11323

169

141

995

17.13

0.76

लक्ष्मणगढ़

23467

47

-

-

8084

172

136

985

17.53

0.76

  

175

-

-

32154

 

413

   

सिरोही

          

आबूरोड

14649

21

11

11

7783

181

81

937

6.02

67.4

पिंडवाड़ा

24750

19

-

14

8250

250

99

962

11.5

38.72

रेवदर

24623

33

16

28

15015

195

126

946

32.9

11.22

सिरोही

20825

38

11

18

16415

245

85

1010

22.34

6.6

शिवगंज

15873

18

-

14

7264

227

70

961

19.92

17.27

  

129

38

85

54727

 

461

   

टोंक

          

देवली

24034

53

14

14

11826

146

165

918

20.09

22.13

मालपुरा

21349

43

12

21

12388

163

131

931

21.05

3.73

टोंक

26335

94

16

31

14100

100

263

914

22.57

10.26

निवाई

18292

94

19

34

13377

91

201

939

21.96

17.84

  

284

61

100

51619

 

760

   

उदयपुर

          

झाडोल

28027

56

-

16

7920

110

256

954

2.91

71.23

गिरवा

34621

42

-

19

13298

218

159

941

5.06

56.11

सलूम्बर

31015

73

-

18

12103

133

233

101

5

53.58

  

171

-

53

33321

 

648

   

राजसमन्द

          

भीम

21057

16

-

-

3056

191

110

1044

10.56

1.91

देवगढ़

13068

27

-

-

2619

97

134

1013

19.07

4.88

कुम्भागढ़

24412

24

-

-

3624

151

161

992

16.72

8.71

रेलमगरा

20021

15

-

-

3195

213

94

986

9.37

25.12

आमेट

13989

31

-

-

3162

102

137

971

16.44

8.4

राजसमन्द

21303

21

-

-

3318

158

135

983

13.05

14.37

  

134

-

-

18974

 

771

   

 



सारिणी 2.3 : राजस्थान के भूजल में निम्न फ्लोराइड क्षेत्र का विवरण


जिला/पंचायत

परिवारों समिति संख्या

भूजल में से की कुल कम फ्लोराइड

प्रभावित गाँवों 0.5 पीपीएम से परिवार वाले गांव की संख्या

पंचायत समिति में औसत परिवार

कुल गांव में औसत

लिंगानुपात

अनुसूचित जाति(प्रतिशत)

अनुसूचित जनजाति (प्रतिशत)

अलवर

        

कटुम्बर

24413

1

152

152

160

837

17.94

13.26

लक्षमणगढ़

25833

1

139

139

185

881

15.37

11.73

रामगढ़

23667

2

276

276

171

878

19.15

3.59

  

4

567

567

516

   

जयपुर

        

बस्सी

22856

2

218

218

209

902

20.85

32.95

चाकसू

17968

8

552

69

258

908

20.36

22.56

दूदू

30088

2

286

143

210

919304

19.67

3.19

सांभर

21031

1

147

147

143

893

15.97

4.07

सांगानेर

21198

1

103

103

205

 

21.53

13.09

  

14

1306

 

1025

   

कोटा

        

चेचट

2290

49

6713

137

162

884

27.54

11.96

  

49

6713

 

162

   

बारां

        

अन्ता

20095

26

3354

129

155

908

21.07

18.35

अटरू

18135

7

924

132

137

893

22.6

18.45

बारां

13606

23

3059

133

102

904

26.1

18.6

छबड़ा

13508

18

1260

70

192

883

17.26

22.47

किशनगंज

18650

72

6624

92

203

901

12.9

34.17

शाहबाद

13491

46

2622

57

236

876

15.96

34.72

  

192

17843

 

1025

   

दौसा

        

सिकराय

-

1

164

164

150

893

22.07

24.54

  

1

164

 

150

   

बाँसवाड़ा

        

पीपलखुर्द

19504

1

94

99

197

972

4.19

93.43

  

1

94

 

197

   

बूंदी

        

केशोरायपाटन

25650

16

1824

114

224

897

18.99

28.05

हिन्डोली

26224

3

453

151

174

891

18.86

18.15

नैनवा

21618

6

726

121

178

885

18.01

22.38

तालेड़ा

37622

1

142

142

265

878

20.08

25.5

  

26

3145

 

841

   

झालावाड़

        

बकानी

20634

17

1071

63

325

920

12.85

13.85

डाग

23125

39

3900

100

231

938

23.9

0.5

झालारापाटन

26438

52

4368

84

315

919

18.85

16.16

खानपुर

10172

33

3102

94

204

897

19.78

14.85

मनोहरथला

21767

65

4810

74

294

938

10.82

26.56

पिड़ावा

21370

50

4950

99

216

930

19.45

6.7

  

256

22201

 

1585

   

नागौर

        

जायल

26771

6

1218

203

132

953

23.05

0.01

परबतसर

22200

2

410

205

108

941

21.04

0.07

  

8

1628

 

240

   

सीकर

        

फतहपुर

23893

1

169

169

141

995

17.13

0.76

लक्ष्मणगढ़

23467

1

172

172

136

985

17.53

0.76

  

2

341

 

277

   

 



1. उच्च फ्लोराइड


भूजल में अधिक फ्लोराइड की स्थिति के आधार पर प्रथम स्थान पर नागौर एवं इसके 771 गांव, द्वितीय स्थान पर जयपुर एवं इसके 717 गांव तथा तृतीय, चतुर्थ एवं छठे स्थान पर क्रमशः बॉसवाड़ा, भीलवाड़ा, बाड़मेर एवं टोंक जिले हैं। सारिणी 2.4 भूजल में उच्च फ्लोराइड युक्त वाले गांवों की संख्या का जिले अनुसार दर्शाया गया है।

सारिणी 2.4 : जिलेवार अधिक भूजल में फ्लोराइड आधिक्य वाले गांवों की संख्या


जिले का नाम

प्रभावित गांवों की संख्या

जिले का नाम

प्रभावित गांवों की संख्या

1.       नागौर

771

16.उदयपुर

224

2.       जयपुर

717

17.भरतपुर

203

3.       बांसवाड़ा

605

18.डूंगरपुर

176

4.       भीलवाड़ा

530

19.सीकर

175

5.       बाड़मेर

466

20.पाली

172

6.       टोंक

445

21.चूरु

166

7.       दौसा

398

22.बांरा

148

8.       अजमेर

384

23.गंगानगर

147

9.       अलवर

344

24.धौलपुर

143

10.   करौली

321

25.राजसमन्द

134

11.   जोधपुर

320

26.चित्तोड़गढ

115

12.   जैसलमेर

301

27.बूंदी

107

13.   सिरोही

252

28.झालवाड़

100

14.   झुन्झूनू

252

29.बीकानेर

85

15.   जालौर

235

30.कोटा

20

 



जिले के कुल गांवों की संख्या में से उच्च फ्लोराइड से प्रभावित गांवों के प्रतिशत के अनुसार प्रथम स्थान पर जालोर (64.38%) द्वितीय स्थान पर जयपुर (61.77%) तृतीय स्थान पर नागौर (60.00)% तचुर्थ स्थान पर टोंक (58.55%), पाली (56.57%) पांचवे एवं सिरोही (54.66%) छठे स्थान पर है। सारिणी 2.5 में उच्च फ्लोराइड से प्रभावित गांवों का प्रतिशत दर्शाया गया है।

सारिणी 2.5 : जिलेवार उच्च फ्लोराइडयुक्त भूजल से प्रभावित गांवों का प्रतिशत


जिले का नाम

प्रभावित गांवों का प्रतीशत

जिले का नाम

प्रभावित गांवों का प्रतीशत

1.       जालौर

64.38

16.   उदयपुर

34.56

2.       जयपुर

61.77

17.   अलवर

34.50

3.       नागौर

60.00

18.   बाड़मेर

34.09

4.       टोंक

58.55

19.   धौलपुर

32.64

5.       पाली

56.57

20.   झुन्झूनू

30.47

6.       सिरोही

54.66

21.   बूंदी

30.39

7.       जैसलमेर

52.07

22.   डूंगरपुर

20.70

8.       जोधपुर

51.94

23.   गंगानगर

19.01

9.       चूरू

51.55

24.   राजसमन्द

17.38

10.   अजमेर

46.71

25.   बांरा

14.43

11.   दौसा

45.69

26.   भरतपुर

13.96

12.   सीकर

42.37

27.   चित्तोड़गढ़

13.49

13.   बांसवाड़ा

41.38

28.   बीकानेर

13.07

14.   करौली

40.47

29.   कोटा

12.34

15.   भीलवाड़ा

36.83

30.   झालावाड़

06.28

 



उच्च फ्लोराइड वाले गांवों की संख्या के अनुसार जिला नागौर पहले स्थान पर है, परंतु पंचायत समिति के अनुसार भीलवाड़ा जिले के मांडल पंचायत समिति के (कुल 162 गांव) पानी में अत्यधिक फ्लोराइड होने के कारण प्रथम स्थान पर है। आसींद एवं इसके 202 गांव दूसरे स्थान पर, मेड़ता तीसरे स्थान, पर चौथे स्थान पर केकड़ी, पांचवें स्थान प सिरोही तथा छठे स्थान पर सायला है। जिन पंचायत समितियों के 60% से अधिक गांव उच्च फ्लोराइड से प्रभावित हैं उन्हें सारिणी 2.6 में दर्शाया गया है।

2.6 – पंचायत समिति के अनुसार उच्च फ्लोराइड युक्त गांवों का प्रतिशत


क्र.सं

पंचायत समिती

जिला

प्रभावित गांव

कुल गांव

प्रभावित गांवों का प्रतिशत                    

1.            

माण्डल

भीलवाड़ा

162

162

100.00

2.            

आसिंद

भीलवाड़ा

202

203

99.50

3.            

मेड़ता

नागौर

85

102

83.33

4.            

केकड़ी

अजमेर

78

95

82.10

5.            

सिरोही

सिरोही

67

85

78.82

6.            

सायला

जालौर

59

77

76.62

7.            

चाकसू

जयपुर

197

258

76.35

8.            

निवाई

टोंक

147

201

73.13

9.            

अंराई

अजमेर

92

129

71.00

10.    

रानी

पाली

51

73

69.86

11.    

देसूरी

पाली

52

76

68.40

12.    

जायल

नागौर

88

132

66.66

13.    

पीपलखुर्द

बांसवाड़ा

130

197

65.98

14.    

सांचौर

जालौर

117

228

65.00

15.    

डेगाना

नागौर

96

151

63.57

16.    

भिनाय

अजमेर

76

120

63.33

17.    

भोपालगढ़

जोधपुर

53

84

63.00

18.    

परबतसर

नागौर

68

108

62.96

19.    

बस्सी

जयपुर

131

209

62.67

20.    

दौसा

दौसा

138

221

62.44

21.    

तलवाड़ा

बांसवाड़ा

136

221

61.53

22.    

डीडवाना

नागौर

104

169

61.53

23.    

सांभर

जयपुर

88

143

61.53

 



उच्च फ्लोराइड युक्त भूजल से प्रभावित परिवारों की संख्या को सारिणी 2.7 में दर्शाया गया है। भीलवाड़ा की आसींद पंचायत समिति में सबसे अधिक 29492 परिवार फ्लोराइड प्रभावित हैं, अतएव आसींद प्रथम स्थान पर है। भीलवाड़ा जिले की मांडल दूसरे स्थान पर जालौर जिले की सांचोर तीसरे स्थान पर, चौथे स्थान पर भी जालौर जिले की सायला पांचवे स्थान पर, जोधपुर जिले की ओसियां एवं छठे स्थान पर नागौर जिले की मेड़ता पंचायत समिति है।

सारिणी : 2.7 पंचायत समिति के अनुसार उच्च फ्लोराइड से प्रभावित परिवारों की संख्या


क्र.स.

पंचायत समिती का नाम

जिले का नाम

प्रभावित परिवारों की संख्या

1.            

आसिंद

भीलवाड़ा

29492

2.            

माण्डल

भीलवाड़ा

28188

3.            

सांचौर

जालौर

26676

4.            

सायल

जालौर

21112

5.            

ओसियां

जोधपुर

21098

6.            

मेड़ता

नागौर

19635

7.            

डीडवाना

नागौर

19552

8.            

दौसा

दौसा

19320

9.            

तलवाड़ा

बांसवाड़ा

17408

10.    

केकड़ी

अजमेर

17004

11.    

चोहटन

बाड़मेर

16468

12.    

सिरोही

सिरोही

16415

13.    

भोपालगढ़

जोधपुर

16324

14.    

डेगाना

नागौर

16032

15.    

दूदू

जयपुर

15730

16.    

मकराना

नागौर

15360

17.    

आहौर

जालौर

15340

18.    

रेवदर

सिरोही

15015

19.    

नागौर

नागौर

14898

20.    

करौली

करौली

14616

21.    

बालोतरा

बाड़मेर

14490

22.    

हिन्डौन

करौली

14396

23.    

गढ़ी

बांसवाड़ा

14282

24.    

बस्सी

जयपुर

14279

25.    

टोंक

टोंक

14100

26.    

कुचामन

नागौर

14070

 



राजस्थान में लगभग 13 लाख परिवार अर्थात 80 लाख लोग भूजल में उच्च फ्लोराइड से प्रभावित हैं। नागौर में 1,49,224 परिवार व 8,95,344 व्यक्ति उच्च फ्लोराइड युक्त भूजल से प्रभावित है। भीलवाड़ा दूसरे स्थान पर, जोधपुर, जयपुर, बांसवाड़ा एवं बाड़मेर क्रमशः तीसरे, चौथे, पांचवे एवं छठे स्थान पर है।

सारिणी 2.8 : जिलानुसार उच्च फ्लोराइड युक्त भूजल से प्रभावित परिवार एवं जनसंख्या का विवरण


क्र.स.

जिले का नाम

कुल परिवारों की संख्या

प्रभावित व्यक्ति की संख्या

1.            

नागौर

149224

895344

2.            

भीलवाड़ा

81822

490932

3.            

जोधपुर

79340

476040

4.            

जयपुर

79066

474396

5.            

बांसवाड़ा

75863

455178

6.            

बाड़मेर

65434

392604

7.            

जालौर

63128

378768

8.            

अजमेर

62963

377778

9.            

सिरोही

54727

328362

10.    

झुन्झूनू

54099

324594

11.    

दौसा

51578

309468

12.    

करौली

50895

305370

13.    

टोंक

51619

309714

14.    

अलवर

50612

303672

15.    

पाली

46193

277158

16.    

उदयपुर

33321

199926

17.    

सीकर

32154

192924

18.    

डूंगरपुर

30569

183414

19.    

चूरु

28040

168240

20.    

भरतपुर

28018

168108

21.    

जैसलमेर

25005

150030

22.    

धौलपुर

22878

137268

23.    

राजसमन्द

18974

113844

24.    

बीकानेर

16325

97950

25.    

बारां

16169

97014

26.    

बूंदी

14948

89688

27.    

चित्तौड़गढ़

12200

73200

28.    

झालावाड़

8607

51642

29.    

गंगानगर

7938

47628

30.    

कोटा

2740

16440

 

योग

1314449

7886694

 



2 निम्न फ्लोराइड


फ्लोराइड एक दोहरी धार वाली तलवार है। भूजल में फ्लोराइड की अधिकता से दंत एवं अस्थि फ्लोरोसिस होता है। यदि भूजल में फ्लोराइड का स्तर 0.5 पी पी एम से कम है तो इसके कारण मुख्यतः बच्चों में निम्नांकित स्वास्थ्य समस्याएं दृष्टिगोचर हो सकती है-

(अ) दंत-क्षय
(ब) दंत-इनामेल के निर्माण में कमी
(स) अस्थियों के सामान्य लवणीकरण में कमी
(द) उपरोक्त सभी या उपरोक्त बीमारियों का संयोग
झालावाड़ जिले के 256 गांवों के भूजल में निम्न फ्लोराइड है, अतः झालवाड़ा प्रथम स्थान पर है। द्वितीय स्थान पर बारां है, जहां 192 गांवों में निम्न फ्लोराइड की समस्या है। सारिणी 2.9 में जिलानुसार निम्न फ्लोराइड वाले गांवों की संख्या का वर्णन किया गाया है।

सारिणी 2.9 : जिले में निम्न फ्लोराइड युक्त भूजल वाले गांवों की संख्या


क्र.स.

जिले का नाम

गांवों की संख्या

1.            

झालवाड़

256

2.            

बारां

192

3.            

कोटा

49

4.            

बूंदी

26

5.            

जयपुर

14

6.            

नागौर

8

7.            

अलवर

4

8.            

सीकर

2

9.            

दौसा

1

10.    

बांसवाड़ा

1

 



भूजल में निम्न फ्लोराइड वाले गांवों के प्रतिशत के दृष्टि से जिला प्रथम स्थान पर है। जिले अनुसार निम्न फ्लोराइड भूजल वाले गांवों का प्रतिशत निम्न सारिणी में वर्णित है।

सारिणी 2.10 : जिला अनुसार निम्न युक्त भूजल वाले गांवों का प्रतिशत


क्र.स.

जिले का नाम

प्रभावित गांवों का प्रतिशत

1.            

कोटा

30.24

2.            

बारां

18.78

3.            

झालावाड़

16.15

4.            

नागौर

3.33

5.            

बूंदी

3.09

6.            

जयपुर

1.36

7.            

अलवर

0.77

8.            

सीकर

0.72

9.            

दौसा

0.66

10.    

बांसवाड़ा

0.5

 



निम्न फ्लोराइड युक्त भूजल वाले गांवों के प्रतिशत की दृष्टि से बारां जिला की किशनगंज पंचायत समिति प्रथम स्थान पर है तथा कोटा जिला की चेचट पंचायत समिति द्वितीय स्थान पर है। सारिणी 2.11 में पंचायत समिति के अनुसार उक्त गांवों का प्रतिशत दर्शाया गया है।

सारिणी 2.11 : पंचायत समिति अनुसार अपर्याप्त फ्लोराइड युक्त भूजल वाले गांवों का प्रतिशत


क्र.स.

पंचायत समिति का नाम

जिले का नाम

प्रभावित गांवों की संख्या

पंचायत समिति में कुल गांव

भुजल में कम फ्लोराइड़ वाले गांव का  प्रतिशत

1.                  

किशनगंज

बारां

72

203

35.46

2.                  

चेचट

कोटा

49

162

30.24

3.                  

पिरावा

झालावाड़

50

216

23.14

4.                  

मनोहरथला

झालावाड़

65

294

22.10

5.                  

अन्ता

बारां

26

155

16.70

6.                  

शाहबाद

बारां

46

236

19,49

7.                  

डाग

झालावाड़

39

231

16.88

8.                  

झालरापाटन

झालावाड़

52

315

16.50

9.                  

खानपुर

झालवाड़

33

204

16.17

10.    

छबड़ा

बारां

18

192

9.37

11.    

केशोराइपाटन

बूंदी

16

224

7.14

12.    

बकानी

झालवाड़

17

325

5.23

13.    

अटरू

बारां

7

137

5.10

 



निम्न फ्लोराइड युक्त भूजल से प्रभावित कुल परिवारों की संख्या के अनुसार कोटा जिला की चेचट पंचायत समिति प्रथम स्थान पर है। एक हजार से अधिक प्रभावित परिवारों वाली पंचायात समिति को निम्न सारिणी में दर्शाया गया है।

सारिणी 2.12 : पंचायत समिति के अनुसार भूजल में निम्न फ्लोराइड से प्रभावित परिवारों की संख्या


क्र.स.

पंचायत समिति का नाम

        जिला

प्रभावित परिवार

1.            

चेचट

कोटा

6713

2.            

किशनगंज

बांरा

6624

3.            

पिड़ावा

झालावाड़

4950

4.            

मनोहरथला

झालावाड़

4810

5.            

झालरापाटान

झालावाड़

4368

6.            

डाग

झालावाड़

3900

7.            

अन्ता

बारां

3354

8.            

खानपुर

झालावाड़

3102

9.            

बारां

बारां

3059

10.    

शाहबाद

बारां

2622

11.    

केशोरायपाटन

बूंदी

1824

12.    

छबड़ा

बारां

1260

13.    

जायल

नागौर

1218

14.    

बकानी

झालावाड़

1071

 



निम्न फ्लोराइड युक्त भूजल से प्रभावित कुल परिवारों की संख्या एवं जनसंख्या की दृष्टि से झालावाड़ जिला प्रथम स्थान पर है। लगभग पचास हजार परिवार एवं 3.5 लाख लोग निम्न फ्लोराइड से प्रभावित हैं। इसका वर्णन सारिणी 2.13 में है।

सारिणी 2.13 जिलेवार निम्न फ्लोराइ से प्रभावित परिवारों की संख्या एवं जनसंख्या


क्र.स.

जिले का नाम

कुल प्रभावित परिवार

प्रभावित जनसंख्या

1.            

झालावाड़

22201

133206

2.            

बारां

17843

107058

3.            

कोटा

6713

40278

4.            

बूंदी

3145

18870

5.            

नागौर

1628

9768

6.            

जयपुर

1306

7836

7.            

अलवर

567

3402

8.            

सीकर

341

2046

9.            

दौसा

164

984

10.    

बांसवाड़ा

94

564

  

54002

324012

 



तीस जिलों की फैली 152 पंचायत समितियों के 24,405 में से 8446 गांवों के लगभग करीब 8 करोड़ लोग फ्लोराइड युक्त पानी पीने को मजबूर हैं, अर्थात 34.61 प्रतिशत गांव समस्या ग्रसित हैं। हर तीसरा गांव इन पंचायत समितियों में फ्लोरइड की समस्या से प्रभावित हैं। इसी तरह 10 जिलों की 31 पंचायत समितियों के 6018 गांवों में से 553 गांव (9.19% गांव) जल में फ्लोराइड की मात्रा होने से ग्रसित हैं।

Disqus Comment