संसार की सबसे बड़ी नदियां

Submitted by admin on Mon, 03/03/2014 - 11:41
Printer Friendly, PDF & Email
Source
नेशनल दुनिया, 27 फरवरी 2014
हमेशा से ही कहा और माना जाता रहा है कि जल ही जीवन है और जल के बिना जीवन जीना नामुमकिन है। दुनियाभर में जल का प्रमुख स्रोत या तो समुद्र है या फिर नदियां। नदियां, मानव जीवन और पर्यावरण को संरक्षित करने में सहायक साबित होती हैं। मगर अफसोस अब नदियों का जलस्तर मनुष्य की गलतियों की वजह से निरंतर घटता जा रहा है। कई नदियों का तो अस्तित्व भी खतरे में है। आइए जानते हैं दुनियाभर की कुछ सबसे विशाल और लंबी नदियों के बारे में।

नील नदी


नील नदीदुनिया की सबसे लंबी नदी का खिताब इसी को मिला हुआ है। यह पूर्वी अफ्रीका से उत्तर और फिर मेडिटेरियन तक 6,650 किलोमीटर के दायरे में फैली हुई है। नील की दो बड़ी सहायक नदियां हैं- व्हाइट नील और ब्लू नील। मिस्र की प्राचीन सभ्यता के विकास में नील नदी की बहुत बड़ी भूमिका मानी जाती है। नील नदी को इसीलिए ‘मिस्र का वरदान’ भी कहा जाता है।

अमेजन


अमेजन नदीकरीब 6,400 किलोमीटर लंबी अमेजन, नील नदी के बाद दुनिया की दूसरी सबसे लंबी नदी है। यह नील से थोड़ी-सी ही छोटी है। हालांकि विशेषज्ञ दोनों नदियों की ठीक-ठीक लंबाई से सहमत नहीं। हां, इतना निश्चित है कि पानी की अधिकता से यह दुनिया की सबसे लंबी नदी है। अटलांटिक महासागर में गिरने से पहले अमेजन और इसकी सहायक नदियां पेरू, बोल्विया, वेनेजुएला, कोलंबिया, इक्वाडोर और ब्राजील से गुजरती हैं। अमेजन नदी में मछलियों की 3,000 से ज्यादा प्रजातियाँ पाई जाती हैं।

यांग्त्सीक्यांग


यांग्त्सीक्यांग नदीयह चीन की सबसे विशाल और दुनिया की तीसरी सबसे लंबी नदी है। यह करीब 6,300 किलोमीटर लंबी है। विशेषज्ञों के अनुसार इसका उद्गम तिब्बती पठार के पूर्वी हिस्से में स्थित ग्लेशियर है। इसे यांग्तजी के नाम से भी जाना जाता है। इस नदी पर बनाया गया बांध ‘थ्री ग्रोजेज डैम’ दुनिया का सबसे बड़ा हाइड्रो-इलेक्ट्रिक पावर स्टेशन है। यह नदी दुनिया का सबसे व्यस्त जलमार्ग भी मानी जाती है।

डेन्यूब


डेन्यूब नदीयह यूरोप की सबसे महत्वपूर्ण नदियों में से एक है। यह इस महाद्वीप की वोल्गा नदी के बाद दूसरी सबसे लंबी नदी है। यह नदी लंबे समय तक रोमन साम्राज्य की प्रहरी रही। आज यह 10 यूरोपीय देशों की सीमा को बांटती है। यह जर्मनी के ब्लैक फॉरेस्ट से निकलती है और 2,850 किलोमीटर के सफर के बाद ब्लैक-सी में समाहित होती है।

मेकांग


मेकांग नदीयह दुनिया की 12वीं सबसे लंबी नदी है जिसकी लंबाई 4,350 किलोमीटर है। तिब्बत के पठार से निकली यह नदी चीन के युयान प्रांत से होती हुई म्यांमार, लाओस, कंबोडिया और थाईलैंड से होकर गुजरती है। विशेषज्ञों के मुताबिक इस नदी में सबसे खतरनाक और जहरीले सांप पाए जातेे हैं। कहा जाता है कि इस नदी में कई तरह के रत्नों का भंडार है।

जांबेजी


जांबेजी नदीअफ्रीका में यह चौथी सबसे लंबी नदी है। जिसकी लंबाई 3,450 किलोमीटर है। यह नदी उत्तर-पश्चिम जांबिया के वेटलैंड से निकलती है और अंगोला से होती हुई नामीबिया, बोत्सवाना, जांबिया, जिंबांब्वे से होती हिंद महासागर में मिलती है। माना जाता है कि साल में दो बार इस नदी के पानी का स्वाद बदलता है।

वोल्गा


वोल्गा नदीयह यूरोप की सबसे लंबी और रूस की सबसे महत्वपूर्ण नदियों में से एक है। रूस के सबसे बड़े 20 शहरों में से 11 शहर वोल्गा के ड्रेनेज बेसिन में स्थित हैं, जिनमें राजधानी मास्को भी शामिल है। यह मात्र 225 मीटर की ऊंचाई पर वाल्दे हिल्स से निकलती है और 3,645 किलोमीटर लंबा सफर तय करते हुए कैस्पियन सागर में गिरती है।

मिसीसिपी


मिसीसिपी नदीकरीब 3,730 किलोमीटर लंबी मिसीसिपी अमेरिका और उत्तरी अमेरिका की सबसे लंबी नदी है। यह इतास्का नामक झील से निकलती है और मैक्सिको की खाड़ी में खत्म होती है। इसके जल की धारा काफी तेज और ठंडी होती है।

गंगा


गंगा नदीगंगा हमारे देश की सबसे पवित्र नदी मानी जाती है। पुराणों में इस नदी को देवी का स्थान दिया गया है; भारत में इसकी पूजा की जाती है। गंगा का उद्गम स्थल पश्चिमी हिमालय माना जाता है। गंगा नदी 2,510 किलोमीटर लंबी है। यह नदी पश्चिम बंगाल के सुंदरवन डेल्टा में गिरती है। इसको हुगली नदी के नाम से भी जाना जाता है।

गंगा का प्राचीन काल से ही धार्मिक और ऐतिहासिक महत्व रहा है। गंगा के महत्व को देखते ही इसे ‘राष्ट्रीय नदी’ घोषित किया गया है।

सेपिक


सेपिक नदीयह न्यूगिनी आइसलैंड की सबसे लंबी नदी है। इसका उद्गम पापुआ न्यू गिनी के पहाड़ों में है। अन्य बड़ी नदियों की तरह इसका कोई डेल्टा नहीं है और यह सीधे समुद्र की तरफ बहती है। इस नदी की कुल लंबाई 1,128 किलोमीटर है।

More From Author

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा