राष्ट्रीय मीडिया कार्यशाला -2015 का आयोजन

Submitted by Hindi on Tue, 09/08/2015 - 12:06

तीन वर्षों से स्पंदन संस्था द्वारा मध्यप्रदेश विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद के सहयोग से मीडिया चौपाल का आयोजन किया जा रहा है। इस वर्ष यह आयोजन ‘जीवाजी विश्वविद्यालय’, ग्वालियर में होना है।

राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संचार परिषद, भारत सरकार के सहयोग से 'राष्ट्रीय मीडिया कार्यशाला -2015' का आयोजन 10-11 अक्टूबर, 2015 को हो रहा है।

वर्ष 2013 में मीडिया चौपाल का मुख्य-विषय 'जन-जन के लिए मीडिया' तथा वर्ष 2014 का मुख्य विषय ‘नदी संरक्षण’ था। इस राष्ट्रीय मीडिया कार्यशाला का केन्द्रीय विषय 'नदी संरक्षण एवं पुनर्जीवन' है। इस कार्यशाला में लगभग 150-200 जन-संचारक, पत्रकारों के साथ-साथ मीडिया व जल (नदी) के विशेषज्ञों के साथ ही बुद्धिजीवी और चिन्तक भी शामिल होंगे।

कार्यशाला में भागीदारी के लिए कृपया इस लिंक पर रजिस्ट्रेशन कराएँ
 

http://www.spandanfeatures.com/पंजीयन/

 

 

कार्यशाला में निम्न तकनीकी विषय होंगे


भारत की नदियाँ : कल, आज और कल
मध्यप्रदेश की नदियाँ : कल, आज और कल
नदियों का विज्ञान और पारिस्थितिकी
जनमाध्यमों में नदियाँ : स्थिति, चुनौतियाँ और सम्भावनायें
नदियों का पुनर्जीवन : संचारकों की भूमिका (रिपोर्टर, स्तम्भ लेखक, फीचर लेखक, ब्लॉगर, वेब-संचालक, सोशल मीडिया एक्टिविस्ट, कवि/कवयित्री, साहित्यकार, प्रवचनकार, रंगकर्मी आदि)
नदियों की रिपोर्टिंग : विविध पक्ष - आर्थिकी, अपराध और लोकोपयोग

 

 

 

 

Disqus Comment