डेंगू की रोकथाम को ओडोमास घास उगाने पर जोर

Submitted by editorial on Thu, 07/19/2018 - 15:06
Source
राष्ट्रीय सहारा, 18 जुलाई, 2018

जिले के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने जनपद में स्वास्थ्य व कानून व्यवस्था को लेकर समीक्षा बैठक की। इस दौरान प्रभारी मंत्री ने डेंगू की रोकथाम में कारगर ओडोमास घास को सरकारी भवनों, गमलों क्यारियों के माध्यम से अन्य संस्थानों के साथ-साथ धर्मशालाओं, आश्रमों में विशेष रूप से रोपे जाने का अभियान चलाने की बात कही।

कलेक्ट्रेट-सभागार में हुई बैठक में डीएम दीपक रावत, एसएसपी कृष्ण कुमार वीके व प्रभारी सीएमओ डॉ. एसडी शाक्य, स्वास्थ्य, सिंचाई व पर्यटन विभाग के भी अधिकारी उपस्थित रहे। प्रभारी मंत्री ने कहा कि ओडोमास घास उगाये गये स्थान पर डेंगू व अन्य मच्छरों की उपस्थिति शून्य पायी गई है। अतः डीएम इसके लिये सूचना तथा मनोरंजन विभाग के सहयोग से व्यापक स्तर पर जन जागरुकता बढ़ायें।

जिला प्रशासन स्कूल विद्यालय, कॉलेजों को भी जागरूक करें। हरिद्वार में स्वास्थ्य विभाग की प्राथमिकताएँ बताते हुए डीएम ने अवगत कराया कि वर्तमान समय में जनपद में स्वास्थ्य के क्षेत्र में नीति आयोग के लक्ष्यों के अन्तर्गत विस्तारित ग्राम स्वराज अभियान चलाया जा रहा है जिसमें बच्चों तथा महिलाओं में शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करना है। दूसरा मानसून के दौरान तेजी से डेंगू के फैलने की आशंका के मद्देनजर नगर निगम तथा स्वास्थ्य विभाग की ओर से डेंगू रोधी अभियान चलाया जा रहा है।

प्रभारी सीएमओ डॉ. शाक्य ने प्रभारी मंत्री को टीकाकरण के सम्बन्ध में जानकारी दी। मंत्री ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि टीकाकरण जीवन को सुरक्षा प्रदान करने के लिये किया जाता है। इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरतें।

महाराज ने सरकारी चिकित्सालयों में डेंगू की टेस्ट किट, इस वर्ष डेंगू के मामलों तथा स्वास्थ्य विभाग की ओर से किये जा रहे डेंगू रोधी कार्यक्रमों की भी जानकारी ली। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि इस वर्ष अभी तक डेंगू का कोई मरीज नहीं आया है।

जनपद में कानून व्यवस्था की जानकारी देते हुए एसएसपी ने बताया कि वर्तमान में व्यवस्था शान्तिपूर्ण है। किसी भी आकस्मिक परिस्थितियों के लिये थाने चौकियों को समय-समय पर निर्देशित किया जाता है। जिले की कानून व्यवस्था सामान्य व सुचारु है। आगामी काँवड़ मेला को लेकर विभाग अपनी तैयारियाँ कर रहा है। सभी चुनौतियों से निपटने की रूपरेखा बना ली गई है। बैटक के बाद प्रभारी मंत्री ने डीएम के साथ आस्था पथ का भी निरीक्षण किया। बैठक में एडीएम प्रशासन बीके मिश्रा, एसएसओ संगीता कन्नौजिया, जिला पर्यटन अधिकारी सीमा नौटियाल सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Disqus Comment