फोटोग्राफी पर 5 दिवसीय वर्कशॉप

Submitted by RuralWater on Sat, 08/20/2016 - 11:12
Source
इण्डिया वाटर पोर्टल (हिन्दी)

स्थान - सम्भावना इंस्टीट्यूट, कांगड़ा
तारीख - 1-5 अक्टूबर 2016


समाजिक मुद्दों पर काम कर रहे फोटोग्राफरों, कार्यकर्ताअों और शोधकर्ताअों के लिये सम्भावना इंस्टीट्यूट 1-5 अक्टूबर 2016 तक 5 दिवसीय फोटोग्राफी कार्यशाला (वर्कशॉप) आयोजित करने जा रहा है। कार्यशाला का उद्देश्य सामाजिक मुद्दों की रिपोर्टिंग और दस्तावेजीकरण को नई विजुअल मीडिया द्वारा प्रभावी तरीके से पेश करने की तकनीक सिखाना है ताकि प्रभावित लोगों, आम आदमी, नीति निर्माताओं, राजनीतिज्ञों और नौकरशाहों तक इसे प्रभावशाली तरीके से पहुँचाया जा सके।

कार्यशाला का फोकस तकनीक/रणनीति और परिप्रेक्ष्य पर होगा। इसमें हिस्सा लेने वालों के लिये कई तरह के लेक्चर, सामूहिक संवाद, मैराथन सत्र होंगे जिसमें प्रतिभागियों और विशेषज्ञों के बीच सीधा संवाद होगा। फोटोग्राफरों पर वीडियो डॉक्यूमेंट्री और फोटोग्राफी अप्रोच कार्यशाला का हिस्सा होंगे।

कार्यशाला में प्रतिभागियों की विजुअल लिट्रेसी और फोटो एडिटिंग स्कील को बेहतर किया जाएगा। वे मुख्यधारा की मीडिया और वैकल्पिक मीडिया में अपने काम को बेहतर तरीके से पेश कर पाएँ, इसमें उनका मार्गदर्शन किया जाएगा।

शिक्षकों के बारे में


सुमित सान्याल ने न्यूयॉर्क के इंटरनेशनल सेंटर अॉफ फोटोग्राफी से डॉक्यूमेंट्री और फोटो पत्रकारिता में स्नातक किया है। बतौर स्वतंत्र फोटोग्राफर उन्होंने अफगानिस्तान, भारत, नेपाल, बांग्लादेश और भूटान में काम किया। सान्याल ने दक्षिण एशिया के सामाज की दारुण स्थिति, विलुप्त हो रही लोक परम्पराएँ और बदलती भौगोलिक दशा पर विशेष तौर पर काम किया है।

रुहानी कौर वर्ष 2002 से फोटोग्राफी के क्षेत्र में काम कर रही हैं। उनके इण्डियाज इनविजिबल वुमेन का इस्तेमाल नीतियों को प्रभावित करने वाले लोगों ने कैम्पेन के साधन के रूप में किया। उन्होंने इण्डियन एक्सप्रेस के साथ काम किया और इसके बाद तस्वीरों से कहानी बताने वाली सीरिज के तहत ओपेन मैगजीन से जुड़ीं। न्यूज वीकली मैगजीन में उन्होंने बतौर फोटो एडिटर काम किया। फिलहाल वे किशोरियों को लेकर काम कर रही हैं।

अमृतराज स्टीफन बंगलुरु के तमिल फोटोग्राफर हैं। फिलहाल वे तमिलनाडु के स्थानीय गाँव में न्यूक्लियर प्लांट के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन पर काम कर रहे हैं।

वर्कशॉप की फीस


वर्कशॉप की फीस 4500 रुपए है। जो प्रतिभागी फीस में छूट चाहते हैं वे आवेदन पत्र में जरूर लिखें और यह भी बताएँ कि उन्हें छूट क्यों दी जाये।

[जरूरत आधारित छूट उपलब्ध है। हम नहीं चाहते हैं फीस देने की असमर्थता के चलते आप आवेदन ही न कर पाएँ हालांकि छूट देने के लिये प्रतिभागियों की संख्या सीमित है अतः छूट की अपील तभी करें जब आपको इसकी जरूरत हो। याद रखें कि ऐसे भी प्रतिभागी हो सकते हैं जिन्हें आपसे ज्यादा छूट की जरूरत होगी।]

स्थान - सम्भावना इंस्टीट्यूट, गाँव - कंदबाड़ी, तहसील- पालमपुर, जिला- कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश-176061 अधिक जानकारी के लिये फोन या मेल करें
फोन नं. +91-8894227954
ईमेल -programs@sambhaavnaa.org

Disqus Comment