पेयजल आपूर्ति पर विभाग व बस्ती के लोग आमने-सामने

Submitted by UrbanWater on Mon, 05/13/2019 - 13:48
Source
अमर उजाला, गढ़वाल 13 मई 2019

श्रीनगर। पेयजल आपूर्ति पर कपरोली ग्राम पंचायत अनुसूचित जाति बस्ती के लोग व जल संस्थान आमने-सामने आ गए हैं। स्थानीय निवासियों का कहना है, कि उनकी बस्ती में कई वर्षों से पेयजल आपूर्ति नहीं की जा रही है। जबकि विभाग का कहना है कि उक्त बस्ती के लोग बिल भुगतान नहीं कर रहे हैं, जिससे पेयजल लाइन की मरम्मत नहीं हो पाई है।

कपरोली के लोगों ने लगाया पेयजल आपूर्ति न करने का आरोप

कपरोली ग्राम पंचायत की अनुसूचित जाति बस्ती के ग्रामीणों ने जल संस्थान पर पेयजल आपूर्ति न करने का आरोप लगाया है। बस्ती के सुनील कुमार का कहना है, कि कई वर्ष पूर्व पेयजल योजना के टैंक के ओवर-फ्लो से उनकी बस्ती के लिए पेयजल आपूर्ति होती थी, लेकिन अब ओवर फ्लो बंद हो गया है, जिससे उनकी बस्ती में पेयजल आपूर्ति नहीं हो पा रही है। करीब तीन वर्ष पूर्व उनकी बस्ती में तत्कालीन पेयजल मंत्री एमपी नैथानी पहुंचे थे। नैथानी ने विभाग को ग्रामीणों की पेयजल आपूर्ति बहाल करने के निर्देश दिए थे।बावजूद इसके विभाग पेयजल आपूर्ति नहीं कर रहा है। दूसरी ओर विभाग के कनिष्ठ अभियंता अमित रतूड़ी ने बताया कि उक्त ग्रामीण वर्षों से पेयजल बिल का भुगतान नहीं कर रहे हैं। विभाग की ओर से भुगतान के लिए कई बार ग्रामीणों से कहा भी गया है, लेकिन ग्रामीण भुगतान करने से साफ इंकार कर रहे हैं।

तिलवाड़ा में गहराया पेयजल संकट

केदारनाथ यात्रा के पड़ाब तिलवाड़ा में पानी का संकट बना है। लोग दूरस्थ स्रोतों से पानी जुटा रहे हैं, लेकिन बढ़ती गर्मी के कारण स्रोतों पर भी पानी कम हो रहा है। बावजूद विभागीय स्तर पर नियमित पेयजल सप्लाई को लेकर अभी तक ठोस कार्रवाई नहीं हो पाई है। नगर के कई मोहल्लों में एक माह से पेयजल संकट बना हुआ है। समस्या का प्रमुख कारण जलनिगम द्वारा निर्मित तल्लानागपुर योजना को जलसंस्थान को हैंडओवर नहीं किया जाना है। स्थानीय महावीर सिंह जगवाण, पूर्व व्यापार संघ अध्यक्ष मान सिंह जगवाण, सुरेश गोदियाल, व्यापार संघ अध्यक्षा सुरेंद्र सकलानी, नरेश भट्ट ने बताया कि जब तिलवाड़ा और गीड-भुतेर ग्राम पंचायत थे, तब तल्लानागपुर पेयजल योजना से यहां स्वैप मोड व्यवस्था के तहत किया जाता था। डेढ़ वर्ष पूर्व दोनों ग्राम पंचायतों का विलय कर नगर पंचायत तिलवाड़ा का गठन हो चुका है, लेकिन जलनिगम द्वारा योजना को जलसंस्थान को हैंडओवर नहीं किया गया है। नगर पंचायत अध्यक्ष संजू जगवाण का कहना है कि सरकारी तंत्र की लापरवाही का खामियाजा स्थानीय जनता भुगत रही है।

चार दिन से पेयजल आपूर्ति ठप

कर्णप्रयाग। ग्राम पंचायत डिम्मर के न्यू-डिम्मर, टटासू और विद्यापीठ बस्ती में जल संस्थान विभाग के कर्मियों की लापरवाही से चार दिन से पेयजल आपूर्ति ठप होने से उपभोक्ताओं में रोष है। जीपी डिमरी, जयदीप गैरोला, रविंद्र खंडूड़ी, जयंती प्रसाद, बसंती देवी, राधा देवी, सरोज डिमरी आदि ने बताया कि टटासू गदेरे स्रोत से न्यू-डिम्मर, टटासू और विद्यापीठ बस्ती के लिए पेयजल आपूर्ति होती है, लेकिन चार दिन से पानी नहीं आ रहा है। जल संस्थान के अवर अभियंता जेएस बिष्ट ने बताया कि आपूर्ति बहाल की जाएगी।

Disqus Comment

Related Articles (Topic wise)

Related Articles (District wise)

About the author

नया ताजा