भूकम्प से क्षति
earthquake

हमारे आस-पास घटित होने वाली आपदाओं में भूकम्प सबसे ज्यादा विनाशकारी होते हैं। यह बिना किसी चेतावनी के काफी बड़े भौगोलिक क्षेत्र को प्रभावित कर सकते हैं और क्षेत्र की अर्थव्यवस्था को इसके प्रभावों से पूर्णतः उबरने में हमारी उम्मीद से कहीं लम्बा समय लग सकता है।

भूकम्प से विगत 115 वर्षों (1900-2015) में आये 1,292 क्षति पहुँचा सकने वाले भूकम्पों में 25.75 लाख व्यक्तियों की मृत्यु हुयी है और 16.49 करोड़ व्यक्ति प्रभावित हुये हैं।


किसी एक भूकम्प से हो सकने वाली क्षति की भयावहता का आकलन इस तथ्य से किया जा सकता है कि 23 जनवरी, 1556 को चीन के शांशी शांशी (Shaanxi) में आये भूकम्प में 8.30 लाख व्यक्ति मारे गये थे।

मारे गये व्यक्तियों के आधार पर बीत गयी एक सदी में आये विनाशकारी भूकम्पों का विवरण आगे दिया गया है। भूकम्प से होने वाली मानव क्षति की ही तरह भूकम्प से होने वाली आर्थिक क्षति का परिमाण बड़ी से बड़ी अर्थव्यवस्था को हिला सकता है। 11 मार्च, 2011 को जापान के नजदीक आये 9.0 परिमाण के तोहोकू (Tohoku) भूकम्प से उत्पन्न सूनामी में 21,000 करोड़ अमेरिकी डॉलर की क्षति हुयी थी जबकि जापान में ही 17 जनवरी, 1995 को आये 6.9 परिमाण के कोबे (Kobe) या महान हनशिन (Great Hanshin) भूकम्प में 10,000 करोड़ अमेरिकी डॉलर की क्षति हुयी थी।

क्र.सं.

भूकम्प का अभिकेन्द्र

रिक्टर पैमाने पर परिमाण

तिथि

मृतक व्यक्ति

टिप्पणी

1.

पोर्ट ऑफ प्रिन्स, हाइती

7.0

12.01.2010

316000

300000 व्यक्ति चोटिल तथा 97294 घरों के क्षतिग्रस्त होने के कारण 1300000 व्यक्ति बेघर

2.

ताँगशान, चीन

7.5

27.07.1976

242769

आधिकारिक आँकड़ों के विपरीत इस भूकम्प में मारे गये व्यक्तियों की संख्या 655000 मानी जाती है

799000 व्यक्ति चोटिल

इस भूकम्प के कारण बीजिंग तक का क्षेत्र प्रभावित हुआ था।

3.

सुमात्रा, इंडोनेशिया

9.1

26.12.2004

227898

यह 1900 के बाद विश्व भर में आये भूकम्पों में तीसरा सबसे बड़े परिमाण का भूकम्प था इस भूकम्प के कारण उत्पन्न सूनामी के कारण दक्षिण-पूर्व एशिया तथा पूर्वी अफ्रीका के 14 देशों में 1700000 व्यक्ति बेघर हो गये थे

4.

हायूआन, निंगशिया, चीन

7.8

16.12.1920

200000

मैकाली पैमाने पर तीव्रता XII होने के कारण लिजुन्बू-हायूआन-गनयांची क्षेत्र में सम्पूर्ण विनाश

लोंगडे व हुइनिंग शहरों में लगभग सभी घर ध्वस्त

लानझाऊ, ताइयूआन, जियान, जिनंग व यिनचुआन शहरों सहित 07 प्रान्तों व क्षेत्रों में भूकम्प की तीव्रता मैकाली पैमाने पर VI से X के बीच

इस भूकम्प को कान्सू या गंशू भूकम्प भी कहा जाता है

5.

कैन्टो, जापान

7.9

01.09.1923

142800

महान टोकियो भूकम्प के नाम से जाने वाला यह भूकम्प घटना के बाद लगी आग के लिये भी जाना जाता है टोकिया-योकोहामा क्षेत्र में 694000 घर ध्वस्त इनमें से 381000 भूकम्प के बाद फैली आग से क्षतिग्रस्त

सगामी खाड़ी के पास के तट में जमीन 02 मीटर ऊपर उठ गई तथा बोसों प्रायद्वीप में 4.5 मीटर का क्षैतिज विस्थापन मापा गया

6.

अश्गाबाट, तुर्कमेनिस्तान (पूर्व सोवियत संघ)

7.3

05.10.1948

110000

अश्गाबाट व आस-पास के गाँवों में ईंट से निर्मित सभी घर ध्वस्त, कंक्रीट के भवन तीव्र क्षतिग्रस्त व रेलगाड़ियाँ पटरी से उतरी

7.

शिचुआन, चीन

7.9

12.05.2008

87587

चेन्गडू – लिग्शियान – गुयांगयुआन क्षेत्र में 374177 व्यक्ति चोटिल 10 प्रान्तों व क्षेत्रों में 45500000 व्यक्ति 5360000 घर ध्वस्त व 21000000 क्षतिग्रस्त। 8600 करोड़ अमेरिकी डॉलर की क्षति बाइचुआन – वेंचुआन क्षेत्र में भू-स्खलनों के कारण भारी क्षति क्विंगचुआन के पास भू-स्खलन से 700 व्यक्ति मारे गये लोगनान (गंशू) में रेलगाड़ी भू-स्खलन से दबी। 34 नदियों का प्रवाह अवरुद्ध होने से 700000 का जीवन खतरे में 2473 बाँध क्षतिग्रस्त वेंचुआन क्षेत्र में भूकम्प की तीव्रता मैकाली पैमाने पर XI आँकी गई

8.

मुजफ्फराबाद, पाकिस्तान

Posted by
Get the latest news on water, straight to your inbox
Subscribe Now
Continue reading