हरियाली पहल - स्मृति वन को और किया जाएगा हरा-भरा

Submitted by RuralWater on Sun, 11/20/2016 - 11:01


धार। बारिश का मौसम शुरू हो चुका है। गर्मी से बदरा ने जहाँ राहत दी है, तो वहीं दूसरी तरफ पेड़-पौधों का महत्त्व भी सम्भवतः समझा जाने लगा है। धरा को अधिक-से-अधिक हरा-भरा करने के लिये यूँ तो कई प्रयास हुए हैं। लोगों ने अपने स्तर पर पेड़ पौधे भी लगाए, लेकिन इस बार जो होने जा रहा है वह न सिर्फ लीक से हटकर, बल्कि मानवोपयोगी भी होगा।

नगर पंचायत ने तय कर लिया है कि शहर की शान स्मृति वन में इस बार हरियाली के लिये 2100 पौधों का रोपण किया जाएगा। ये 2100 पौधे कोई एक या दो व्यक्ति नहीं, बल्कि 2100 लोगों द्वारा लगवाने के प्रयास किये जा रहे हैं। हालांकि अभी तारीख तय नहीं हुई है, लेकिन कहा जा रहा है कि इसी पखवाड़े में यह प्रक्रिया पूर्ण कर ली जाएगी। यदि ऐसा होता है तो निश्चित तौर पर यह एक अनोखा काम होगा, जब 2100 पौधों के लिये 2100 लोग एक साथ एकत्रित होंगे।

नगर पंचायत से जुड़े सूत्रों के मुताबिक विभिन्न प्रजातियों के 2100 पौधे स्मृति वन में लगाए जाने का प्रयास किया जा रहा है। कोशिश यह भी हो रही है कि इस कार्यक्रम के अहम हिस्से के तौर पर धार कलेक्टर श्रीमन शुक्ला शिरकत करे। इसके लिये सम्भावित रूप से चर्चा भी चल रही है। वहाँ से तारीख मिलने के बाद कार्यक्रम की सम्पूर्ण रूपरेखा तय कर ली जाएगी और यह काम हो जाएगा। अब तक स्मृति वन में पौधारोपण जरूर होता था, लेकिन इसका आँकड़ा सम्भवतः कभी भी 1000-1500 से ऊपर नहीं गया। पहली मर्तबा ऐसा होगा जब 2100 पौधों का रोपण एक साथ होगा।

 

 

वन विभाग मुहैया कराएगा पौधे


हरियाली से सम्बन्धित यह अभियान नगर पंचायत और वन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित होगा। इसके तहत स्मृति वन में जो 2100 पौधे लगना है, वे वन विभाग द्वारा मुहैया कराए जाएँगे। इन पौधों की देखरेख की पूरी जिम्मेदारी नगर पंचायत ने लेने का फैसला किया है।

 

 

 

सात हजार से अधिक पौधे हैं वर्तमान में


फिलहाल स्मृति वन में सात हजार से अधिक पौधे विभिन्न प्रजातियों के हैं। करीब साढ़े पाँच हेक्टेयर में फैले स्मृति वन में औषधीय सहित कई फलदार वृक्ष भी हैं। इन्हें पानी मुहैया कराने के लिये हाल ही में नगर पंचायत ने एक ट्यूबवेल भी खनन कराया था, जिसमें पर्याप्त पानी आया था। इसके चलते पौधों की देखरेख में ज्यादा परेशानी आने का सवाल उत्पन्न नहीं होता।

जहाँ तक खाद की बात है तो शहर के कचरे से बन रही खाद का इस्तेमाल इन पौधों को जीवित रखने में किया जाएगा। वन विभाग व नगर पंचायत के संयुक्त तत्वावधान में 2100 पौधे जनहित में लगाने की योजना है। ये पौधे स्मृति वन में लगाए जाएँगे। अभी तारीख तय नहीं है, लेकिन यह काम जल्द ही किया जाएगा। अब तक 1000-1500 पौधे हर साल रोपे जाते थे। इस बार इस आँकड़े को बढ़ाया गया है। इनकी पूरी देखरेख की जवाबदारी नगर पंचायत सम्भालेगी।

 

 

 

 

Disqus Comment