जिला जल एवं स्वच्छता समिति प्रारम्भ कर रही है ऑपरेशन मल्हार

Submitted by Hindi on Thu, 04/07/2016 - 13:01
Source
हरिभूमि न्यूज, 03 अप्रैल, 2016

जिला पंचायत सीईओ चंद्र मोहन सिंह ठाकुर ने ऑपरेशन मल्हार योजना के माध्यम से जिले के प्रत्येक गाँव में स्वच्छता और शौचालय को ध्यान में रखकर जल्द-से-जल्द योजना पर अमल किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से जिले के प्रत्येक गाँव में पानी और शौचालय आने वाले 3 माह में यह कार्य पूरा किया जाएगा। छतरपुर। जैसे राग मल्हार गाकर तानसेन ने पानी धरती पर बरसाया था वैसे ही हम सबके सघन प्रयास से छतरपुर जिले की सभी जल संरचनाओं के जीर्णोंद्धार से जल संचय कर हमें इस जिले की पानी की समस्या का दीर्घकालिक उपाय करना है। चन्देलकालीन के तालाबों से लेकर नए तालाबों एवं जल समूहों तक को नरेगा एवं वाटरशेड की मदद से जीर्णोंद्धार करना है। जिससे कि हम मानसून के आगमन से पहले जल संचय के सभी स्रोतों को पुख्ता तौर से तैयार कर सके। मल्हार का दूसरा अर्थ है ह्यमल की हारह। खुले में शौच के अभिशाप से खुले में पड़ा मल कई बीमारियों को जन्म देता है। इससे बचने का एक ही उपाय है। खुले में शौच से मुक्त गाँव। मानसून के आगमन तक जिले के 100 ग्राम पंचायतों को करना है खुले में शौच से मुक्त। जिले के सौ ग्राम पंचायतों में प्रेरकों ने शुरू कर दिया स्वच्छता सेनानियों के साथ सघन प्रयास। मल की हार और जिले की पानी की समस्या से लड़ने के लिये मल्हार राग के जैसी जीर्णोंद्धार की मेहनत ही सही मायने में दिलाएगी जिले को जल और स्वच्छता दोनों में उत्कृष्ट स्थान।

क्या है ऑपरेशन मल्हार?


ऑपरेशन मल्हार की समस्त गतिविधियाँ ग्राम उदय से भारत उदय अभियान के साथ ही संचालित की जाएँगी। मल्हार से ही होगा सच्चा ग्राम उदय और ग्राम उदय से भारत उदय। ऑपरेशन मल्हार का ध्येय है हर गाँव में पानी, हर घर में शौचालय।

ग्राम उदय से भारत उदय अभियान शुरू होगा


प्रदेश में आगामी 14 अप्रैल से ग्राम उदय से भारत उदय अभियान का शुभारम्भ होगा। यह अभियान 31 मई तक चलेगा। यह जानकारी मंत्रालय भोपाल से आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के दौरान प्रदेश के मुख्य सचिव अन्टोनी जेसी डिसा द्वारा दी गई। अभियान का शुभारम्भ डॉ. भीमराव अम्बेडकर की जयन्ती से होगा। इस दिन महू में राष्ट्रीय कार्यक्रम का आयोजन होगा। 14 अप्रैल को पूरे प्रदेश में ग्राम सभाओं का आयोजन होगा। इसके माध्यम से ग्राम निकास को बढ़ावा देने के साथ-साथ किसानों के कल्याण के लिये प्रयास किया जाएगा। अभियान के दौरान विभिन्न प्रकार की शासकीय योजनाओं की जानकारी लोगों तक पहुँचाई जाएगी। अभियान के दौरान पशु स्वास्थ्य परीक्षण, महिला स्वास्थ्य शिविर एवं स्वास्थ्य शिविरों का भी आयोजन किया जाएगा। राजस्व विभाग के अन्तर्गत जाति प्रमाण पत्र, नामांकन, बँटवारा, सीमांकन आदि के प्रकरणों का निराकरण होगा। यह अभियान ग्राम स्तर से लेकर जिला स्तर और राज्य स्तर पर क्रियान्वित किया जाएगा।

Disqus Comment