पृथला से झाड़सेंतली के बीच समर्थन में उठे हजारों हाथ

Submitted by Hindi on Tue, 03/12/2013 - 10:08
Source
नेशनल दुनिया, 09 मार्च 2013
सूर्यपुत्री, पुण्य सलिला यमुना के शुद्धिकरण को लेकर मथुरा से शुरू हुई पदयात्रा के समर्थन में शुक्रवार को हजारों हाथ उठे। महिला, पुरुष व बच्चों की भीड़ यात्रा को देखने व उनके प्रति समर्थन व्यक्त करने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग के दोनों और उमड़ पड़ी। हजारों की भीड़ ने यात्रा में शामिल संतों, पर्यावरण प्रेमियों व अन्य यात्रियों का हाथ हिलाकर अभिनंदन व स्वागत किया। शास्त्रों में यमुना को सजला व पुण्यसलिला कहा गया है लेकिन वर्तमान में यमुना की दुर्दशा से आंदोलित भगवान कृष्ण की कर्मस्थली मथुरा व ब्रज क्षेत्र के लोग सड़कों पर उतर आए हैं। शुक्रवार को यमुना की दुर्दशा को लेकर निकली पदयात्रा जब राष्ट्रीय राजमार्ग पर पृथला से चली तो सब ओर राधे-राधे व यमुना मैया की जय के जयकारे गुंजायमान हो उठे। कई स्थानों यमुना रक्षक दल के सदस्यों को भव्य स्वागत किया गया। श्रद्धालुओं ने यात्रियों को फूलमालाओं से लाद दिया।

यमुना मुक्ति यात्रा का रूटमैप


 

 

यात्रा

तिथि

स्थान

प्रारंभ

एक मार्च

छटीकरा चौराहा, मथुरा

रात्रि विश्राम

एक मार्च

चौमा, मथुरा

रात्रि विश्राम

दो मार्च

शुगर मिल, छाता

रात्रि विश्राम

तीन मार्च

अनाजमंडी, कोसीकला

रात्रि विश्राम

चार मार्च

त्यागी मंदिर, होडल

रात्रि विश्राम

पांच मार्च

राजकीय विद्यालय, औरंगाबाद

रात्रि विश्राम

छह मार्च

नेताजी सुभाष स्टेडियम, पलवल

रात्रि विश्राम

सात मार्च

राजकीय विद्यालय, पृथला

रात्रि विश्राम

आठ मार्च

राजकीय विद्यालय, झाड़सेंतली

रात्रि विश्राम

नौ मार्च

सेक्टर 12 मैदान, फरीदाबाद

रात्रि विश्राम

दस मार्च

सरिता विहार, दिल्ली

प्रदर्शन

11 मार्च

जंतर-मंतर, दिल्ली

 



यात्रा का नेतृत्व कर रहे यमुना रक्षक दल के अध्यक्ष संत जयकृष्ण दास महाराज, संरक्षक कमलकांत उपमन्यु, पंकज बाबा, संदीप ठाकुर, उपाध्यक्ष राकेश, महामंत्री हरीश ठेनुआ और कार्यकारी अध्यक्ष सुनील सिंह, भानु प्रताप सिंह सहित बड़ी संख्या में लोग यमुना मैया के जयकारे लगाते चल रहे थे। संतों द्वारा माइक से लोगों को यमुना की बदहाली का ब्यौरा लोगों को दिया जा रहा था। पलवल पहुंचने पर यमुना रक्षा यात्रा का जिला बार के वकीलों, विभिन्न धार्मिक व सामाजिक संगठनों के अलावा अन्य लोगों द्वारा फूलमालाओं से ज़ोरदार स्वागत किया गया।

पल-पल की खबर


मथुरावासियों को पल-पल की खबर मिल रही है। यात्रा का पूरा विवरण वहां एफएम 100 बरसाना, मान मंदिर द्वारा दिया जा रहा है।

Disqus Comment