स्वैट मॉडल के शोध कार्यों में प्रयोग पर एक तुलनात्मक समीक्षा

Submitted by Hindi on Thu, 12/22/2011 - 17:02
Source
राष्ट्रीय जल विज्ञान संस्थान, चतुर्थ राष्ट्रीय जल संगोष्ठी, 16-17 दिसम्बर 2011
कृषि एवं अन्य शोध कार्यों में मृदा एवं जल मूल्यांकन टूल (SWAT) का प्रयोग लगभग तीस वर्षों से अधिक समय से विभिन्न देशों में हो रहा है। मृदा एवं जल मूल्यांकन टूल बहुविषयीय जल विभाजक मॉडलिंग टूल के रूप में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार कर लिया गया है तथा इसकी प्रमाणिकता विभिन्न स्वैट संगोष्ठियों, सौ से ज्यादा मृदा एवं जल मूल्यांकन टूल से संबंधित लेख एवं दर्जनों प्रख्यात पत्रों में प्रकाशित लेखों से सिद्ध होती है। यह मॉडल अमेरिका पर्यावरण संरक्षक शाखा द्वारा स्वीकार किया जा चुका है तथा अमेरिका के कई संघीय एवं राजकीय शाखाओं द्वारा इस्तेमाल भी किया जा रहा है। SWAT मॉडल पर 250 से ज्यादा प्रख्यात लेख प्रकाशित हो चुके हैं, जो कि मृदा एवं जल मूल्यांकन टूल के उपयोग के बारे में विवरण देते हैं। हमारे देश में भी पिछले कुछ वर्षों से स्वैट मॉडल का उपयोग प्रारम्भ हुआ है तथा इसके द्वारा विभिन्न जल विभाजक क्षेत्रों की मॉडलिंग के सफल प्रयास किये गये हैं।

इस लेख में उनके बारे में भी चर्चा की गयी है। इस प्रपत्र में कुछ तकनीकी लेखों जिनमें SWAT का प्रयोग भारत में किया गया है उनके संबंधित क्षेत्रों तथा निष्कर्षों के अनुसार वर्गीकरण कर उन पर संक्षिप्त में चर्चा की गयी है। इसके अलावा इस प्रपत्र में धारा प्रवाह अंशशोधन, जलवायु परिर्वतन का जलविज्ञान पर प्रभाव का आंकलन और अति संवेदनशीलता विश्लेषण एवं अंशशोधन विधि, प्रस्तुत मॉडल की खूबी एवं खामियां तथा स्वैट मॉडल से संबधित अपेक्षित अनुसंधानों की अनुशंसा की गयी है।

इस रिसर्च पेपर को पूरा पढ़ने के लिए अटैचमेंट देखें



Disqus Comment