नया ताजा

पसंदीदा आलेख

आगामी कार्यक्रम

खासम-खास

Submitted by HindiWater on Sat, 09/19/2020 - 17:44
अनुपम मिश्र

आज भी खरे है तालाब अनुपम मिश्र की बहुचर्चित पुस्तक - 02 अध्याय नींव से शिखर तक रमाकान्त राय के संगीतमय अंदाज में

Content

Submitted by HindiWater on Tue, 07/28/2020 - 21:11
Source:
डाकुओं को भी बनाया पर्यावरण प्रेमी, लगाए 26 लाख पौधे
वैसे तो पौधारोपण हम सभी करते हैं, लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं, जिनके जीवन का उद्देश्य ही पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण है। ऐसे ही एक व्यक्ति हैं, विष्णु लांबा, जिनकी प्रेरणा से अभी तक 50 लाख पेड़ लगाए जा चुके हैं। साथ ही वे नदियों को खनन मुक्त कराने और पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य कर रहे हैं। पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपने जुनून के चलते ही उन्होंने सुख्यात डाकुओं को भी पर्यावरण की मुहिम से जोड़ दिया। पर्यावरण को बचाने के लिए उन्होंने अपना घरबार भी छोड़ दिया। पर्यावरण के प्रति उनके जुनून को देखते हुए दुनिया अब उन्हें ट्रीमैन ऑफ इंडिया के नाम से जानती है। पेश है उनसे बातचीत के कुछ अंश।
Submitted by UrbanWater on Tue, 07/28/2020 - 11:20
Source:
छपरा के सतजोड़ा गांव में घुसा बाढ़ का पानी
“रात में अचानक पानी घर में घुस गया। माल-मवेशी बह गया। खाने पीने का कोई ठौर नहीं है। तीन दिन से हमलोग परेशान हैं, लेकिन कोई हमारी मदद करने नहीं आया है।” गुस्सा और दर्द मिश्रित ये शिकायत बुजुर्ग गौरी सिंह की है। गौरी सिंह छपरा जिले के पानापुर प्रखंड के सतजोड़ा पंचायत के सतजोड़ा गांव में रहते हैं। वह करीब 80 साल के हैं, लेकिन जब से अक्ल आई है, इतना पानी उन्होंने अपने गांव में नहीं देखा।
Submitted by HindiWater on Mon, 07/27/2020 - 22:00
Source:
दिल्ली में हैं तो सतर्कता बरतकर करें पानी का उपयोग
अमोनिया है नुकसानदायक पानी में अमोनिया की मात्रा बढ़ना सेहत के लिए काफी खतरनाक है। अमोनियायुक्त पानी से लीवर संक्रमित हो सकता है। वहीं इससे पीलिया, हेपेटाइटिस सहित कई अन्य बीमारियां हो सकती हैं। इससे कोमा में जाने का खतरा भी रहता है। दरअसल पानी में अमोनिया की मात्रा 0.5 पीपीएम से अधिक नहीं होनी चाहिए। अमोनिया वाले वाले से डीआइड्रेशन भी बना रहता है। इस पानी को उबालकर पीना चाहिए।

प्रयास

Submitted by HindiWater on Tue, 09/22/2020 - 17:33
आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव
मध्यप्रदेश के इंदौर में आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव की सुहानी सूरत देखने को मिल रही है। महिलाओं को संगठित कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन उनके हाथों में हुनर सौंप रहा है। उन्हें संसाधन मुहैया करा रहा है। निर्धन परिवारों की महिलाओं के लिए आजीविका नारी सशक्तिकरण की नयी मिसाल बन गई है।

नोटिस बोर्ड

Submitted by HindiWater on Tue, 10/13/2020 - 13:56
Source:
इंडिया रिवर्स वीक
इंडिया रिवर्स वीक ने वर्ष 2020 के लिए भागीरथ प्रयास सम्मान और अनुपम मिश्र मेडल के लिये नामांकन आमंत्रित किये है। भागीरथ प्रयास सम्मान की शुरुआत 2014 में की गई। जिसके जूरी स्वर्गीय श्री रामास्वामी थे
Submitted by HindiWater on Thu, 10/08/2020 - 12:58
Source:
वेबनार
रिवाइटलाइजिंग रेनफेड एग्रीकल्चर नेटवर्क (RRAN) और पीपल साइंस इंस्टिट्यूट (PSI)  हिमांचल प्रदेश के जमीनी अनुभव पर आधारित हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर एक वेबिनार आयोजित कर रहा है। 
Submitted by HindiWater on Wed, 09/30/2020 - 10:41
Source:
पानी रे पानी
कला प्रतियोगिता के नियम 1) इसके दो आयु वर्ग होंगे : . 5 से 8 वर्ष . 9 से 14 वर्ष

Latest

खासम-खास

आज भी खरे है तालाब-अध्याय 2 नींव से शिखर तक संगीतमय वाचन

Submitted by HindiWater on Sat, 09/19/2020 - 17:44
Author
इंडिया वाटर पोर्टल (हिंदी)
aaj-bhi-khare-hai-talab-adhyay-2-neev-se-shikhar-tak-sangitamay-vachan
Source
रमाकांत राय
अनुपम मिश्र

आज भी खरे है तालाब अनुपम मिश्र की बहुचर्चित पुस्तक - 02 अध्याय नींव से शिखर तक रमाकान्त राय के संगीतमय अंदाज में

Content

डाकुओं को भी बनाया पर्यावरण प्रेमी, लगाए 26 लाख पौधे

Submitted by HindiWater on Tue, 07/28/2020 - 21:11
treeman-of-india-vishnu-lamba-rajasthan
डाकुओं को भी बनाया पर्यावरण प्रेमी, लगाए 26 लाख पौधे
वैसे तो पौधारोपण हम सभी करते हैं, लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं, जिनके जीवन का उद्देश्य ही पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण है। ऐसे ही एक व्यक्ति हैं, विष्णु लांबा, जिनकी प्रेरणा से अभी तक 50 लाख पेड़ लगाए जा चुके हैं। साथ ही वे नदियों को खनन मुक्त कराने और पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य कर रहे हैं। पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपने जुनून के चलते ही उन्होंने सुख्यात डाकुओं को भी पर्यावरण की मुहिम से जोड़ दिया। पर्यावरण को बचाने के लिए उन्होंने अपना घरबार भी छोड़ दिया। पर्यावरण के प्रति उनके जुनून को देखते हुए दुनिया अब उन्हें ट्रीमैन ऑफ इंडिया के नाम से जानती है। पेश है उनसे बातचीत के कुछ अंश।

बिहार में बाढ़:  “सब तबाह हो गया, कोई हमारी सुन नहीं रहा”

Submitted by UrbanWater on Tue, 07/28/2020 - 11:20
Author
उमेश कुमार राय
bihar-badh:-“sub-tabah-ho-gaya,-koi-hamari-sun-nahin-raha”
छपरा के सतजोड़ा गांव में घुसा बाढ़ का पानी
“रात में अचानक पानी घर में घुस गया। माल-मवेशी बह गया। खाने पीने का कोई ठौर नहीं है। तीन दिन से हमलोग परेशान हैं, लेकिन कोई हमारी मदद करने नहीं आया है।” गुस्सा और दर्द मिश्रित ये शिकायत बुजुर्ग गौरी सिंह की है। गौरी सिंह छपरा जिले के पानापुर प्रखंड के सतजोड़ा पंचायत के सतजोड़ा गांव में रहते हैं। वह करीब 80 साल के हैं, लेकिन जब से अक्ल आई है, इतना पानी उन्होंने अपने गांव में नहीं देखा।

दिल्ली में हैं तो सतर्कता बरतकर करें पानी का उपयोग

Submitted by HindiWater on Mon, 07/27/2020 - 22:00
delhi-mein-jal-pradushan
दिल्ली में हैं तो सतर्कता बरतकर करें पानी का उपयोग
अमोनिया है नुकसानदायक पानी में अमोनिया की मात्रा बढ़ना सेहत के लिए काफी खतरनाक है। अमोनियायुक्त पानी से लीवर संक्रमित हो सकता है। वहीं इससे पीलिया, हेपेटाइटिस सहित कई अन्य बीमारियां हो सकती हैं। इससे कोमा में जाने का खतरा भी रहता है। दरअसल पानी में अमोनिया की मात्रा 0.5 पीपीएम से अधिक नहीं होनी चाहिए। अमोनिया वाले वाले से डीआइड्रेशन भी बना रहता है। इस पानी को उबालकर पीना चाहिए।

प्रयास

आजीविका की बदौलत सामाजिक बदलाव

Submitted by HindiWater on Tue, 09/22/2020 - 17:33
ajivika-key-badoulat-samajik-badlav
आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव
मध्यप्रदेश के इंदौर में आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव की सुहानी सूरत देखने को मिल रही है। महिलाओं को संगठित कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन उनके हाथों में हुनर सौंप रहा है। उन्हें संसाधन मुहैया करा रहा है। निर्धन परिवारों की महिलाओं के लिए आजीविका नारी सशक्तिकरण की नयी मिसाल बन गई है।

नोटिस बोर्ड

भागीरथ प्रयास सम्मान  2020 के लिए नामांकन आमंत्रित 

Submitted by HindiWater on Tue, 10/13/2020 - 13:56
indiya-rivers-vik-ney-bhagidrath-prayas-samman-2020-kay-liye-namankan-amantrit-kiye-hai
इंडिया रिवर्स वीक
इंडिया रिवर्स वीक ने वर्ष 2020 के लिए भागीरथ प्रयास सम्मान और अनुपम मिश्र मेडल के लिये नामांकन आमंत्रित किये है। भागीरथ प्रयास सम्मान की शुरुआत 2014 में की गई। जिसके जूरी स्वर्गीय श्री रामास्वामी थे

हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर वेबिनार

Submitted by HindiWater on Thu, 10/08/2020 - 12:58
himalyan-aria-mein-spring-shade-management-par-webnar
वेबनार
रिवाइटलाइजिंग रेनफेड एग्रीकल्चर नेटवर्क (RRAN) और पीपल साइंस इंस्टिट्यूट (PSI)  हिमांचल प्रदेश के जमीनी अनुभव पर आधारित हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर एक वेबिनार आयोजित कर रहा है। 

पानी रे पानीअभियान के तहत गांधी जयंती के अवसर पर आयोजित कला प्रतियोगिता

Submitted by HindiWater on Wed, 09/30/2020 - 10:41
pani-ray-paniabhiyan-kay-tahat-gandhi-jayanti-kay-avsar-par-ayojit-kala-pratiyogita
पानी रे पानी
कला प्रतियोगिता के नियम 1) इसके दो आयु वर्ग होंगे : . 5 से 8 वर्ष . 9 से 14 वर्ष

Upcoming Event

Popular Articles