नया ताजा

पसंदीदा आलेख

आगामी कार्यक्रम

खासम-खास

Submitted by HindiWater on Sat, 09/19/2020 - 17:44
अनुपम मिश्र

आज भी खरे है तालाब अनुपम मिश्र की बहुचर्चित पुस्तक - 02 अध्याय नींव से शिखर तक रमाकान्त राय के संगीतमय अंदाज में

Content

Submitted by HindiWater on Mon, 10/05/2020 - 17:02
Source:
पर्यावरण पर्स्पेक्टिव 
कविता मिश्रा 
हम भगवान को प्रकृति में,जानवरों में, पक्षियों में और पर्यावरण में देख सकते हैं। अगर आप प्रकृति में गहराई से देखना शुरू करेंगे तो आपको समझ आएगा कि सब कुछ कितना खूबसूरत है । अगर हमें पर्यावरण की गुणवत्ता में सुधार लाना है, तो केवल एक ही तरीका है, 'सबको शामिल करना"यर कहना है गुजरात के अंकलेश्वर की जागृति मनीषा दिवेचा का पेड़ पौधों और प्रगति के लगाव अपने पिता से मिला है । 
Submitted by HindiWater on Mon, 10/05/2020 - 11:53
Source:
C.S.E.
भारत में पिछले कुछ वर्षों में बड़ी संख्या में शौचालयों का निर्माण किया गया है। लेकिन, क्या इससे हमारे ग्रामीण क्षेत्रों की स्वच्छता समस्याएं खत्म हो जाएंगीं ? जवाब है, नहीं, हमने शौचालय का निर्माण किया है, लेकिन इसके साथ ही, ठोस और तरल कचरे के निपटारे का मुद्दा भी पूरे विश्व के सामने आ खड़ा हुआ है । यह कचरा अगर हमारे भूजल संसाधनों में मिल जाएगा या जल निकायों मिल जायेगा या ऐसे ही खुले में पड़ा रहेगा तो इससे नए स्वास्थ्य और पर्यावरणीय सम्बंधित कतरे पैदा हो सकते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में अपशिष्ट उत्पादन बड़ा मुद्दा है क्यूंकि यह बहुत तेजी से हो रहा है और यहां प्रमुख रूप से सफाई प्रणाली ऑन साइट पर ही होती है। 
Submitted by HindiWater on Sat, 10/03/2020 - 17:23
Source:
गंगा डॉलफिन
स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पीएम मोदी ने प्रोजेक्ट-डॉलफिन" योजना की घोषणा की है। जिसमें प्रॉजेक्ट टाइगर की तरह काम किया जाएगा। जैसे प्रोजेक्ट टाइगर में बाघों की संख्या बढ़ाने का काम किया गया था कुछ इसी तरह डॉलफिन को संरक्षित करने के लिये कदम उठाए जाएंगे।

प्रयास

Submitted by HindiWater on Tue, 09/22/2020 - 17:33
आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव
मध्यप्रदेश के इंदौर में आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव की सुहानी सूरत देखने को मिल रही है। महिलाओं को संगठित कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन उनके हाथों में हुनर सौंप रहा है। उन्हें संसाधन मुहैया करा रहा है। निर्धन परिवारों की महिलाओं के लिए आजीविका नारी सशक्तिकरण की नयी मिसाल बन गई है।

नोटिस बोर्ड

Submitted by HindiWater on Tue, 10/13/2020 - 13:56
Source:
इंडिया रिवर्स वीक
इंडिया रिवर्स वीक ने वर्ष 2020 के लिए भागीरथ प्रयास सम्मान और अनुपम मिश्र मेडल के लिये नामांकन आमंत्रित किये है। भागीरथ प्रयास सम्मान की शुरुआत 2014 में की गई। जिसके जूरी स्वर्गीय श्री रामास्वामी थे
Submitted by HindiWater on Thu, 10/08/2020 - 12:58
Source:
वेबनार
रिवाइटलाइजिंग रेनफेड एग्रीकल्चर नेटवर्क (RRAN) और पीपल साइंस इंस्टिट्यूट (PSI)  हिमांचल प्रदेश के जमीनी अनुभव पर आधारित हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर एक वेबिनार आयोजित कर रहा है। 
Submitted by HindiWater on Wed, 09/30/2020 - 10:41
Source:
पानी रे पानी
कला प्रतियोगिता के नियम 1) इसके दो आयु वर्ग होंगे : . 5 से 8 वर्ष . 9 से 14 वर्ष

Latest

खासम-खास

आज भी खरे है तालाब-अध्याय 2 नींव से शिखर तक संगीतमय वाचन

Submitted by HindiWater on Sat, 09/19/2020 - 17:44
Author
इंडिया वाटर पोर्टल (हिंदी)
aaj-bhi-khare-hai-talab-adhyay-2-neev-se-shikhar-tak-sangitamay-vachan
Source
रमाकांत राय
अनुपम मिश्र

आज भी खरे है तालाब अनुपम मिश्र की बहुचर्चित पुस्तक - 02 अध्याय नींव से शिखर तक रमाकान्त राय के संगीतमय अंदाज में

Content

प्रकृति ही भगवान है  

Submitted by HindiWater on Mon, 10/05/2020 - 17:02
prakriti-hee-bhagavan-hai
Source
पर्यावरण पर्स्पेक्टिव 
कविता मिश्रा 
हम भगवान को प्रकृति में,जानवरों में, पक्षियों में और पर्यावरण में देख सकते हैं। अगर आप प्रकृति में गहराई से देखना शुरू करेंगे तो आपको समझ आएगा कि सब कुछ कितना खूबसूरत है । अगर हमें पर्यावरण की गुणवत्ता में सुधार लाना है, तो केवल एक ही तरीका है, 'सबको शामिल करना"यर कहना है गुजरात के अंकलेश्वर की जागृति मनीषा दिवेचा का पेड़ पौधों और प्रगति के लगाव अपने पिता से मिला है । 

ग्रामीण क्षेत्रों में मल अपशिष्ट प्रबंधन पर ऑनलाइन ट्रेनिंग प्रोग्राम 

Submitted by HindiWater on Mon, 10/05/2020 - 11:53
gramin-kshetron-mein-mal-apshisht-prabandhan-par-online-training-program
C.S.E.
भारत में पिछले कुछ वर्षों में बड़ी संख्या में शौचालयों का निर्माण किया गया है। लेकिन, क्या इससे हमारे ग्रामीण क्षेत्रों की स्वच्छता समस्याएं खत्म हो जाएंगीं ? जवाब है, नहीं, हमने शौचालय का निर्माण किया है, लेकिन इसके साथ ही, ठोस और तरल कचरे के निपटारे का मुद्दा भी पूरे विश्व के सामने आ खड़ा हुआ है । यह कचरा अगर हमारे भूजल संसाधनों में मिल जाएगा या जल निकायों मिल जायेगा या ऐसे ही खुले में पड़ा रहेगा तो इससे नए स्वास्थ्य और पर्यावरणीय सम्बंधित कतरे पैदा हो सकते हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में अपशिष्ट उत्पादन बड़ा मुद्दा है क्यूंकि यह बहुत तेजी से हो रहा है और यहां प्रमुख रूप से सफाई प्रणाली ऑन साइट पर ही होती है। 

डॉलफिन संरक्षण की दिशा में एक पहल

Submitted by HindiWater on Sat, 10/03/2020 - 17:23
dolphin-sanrakshan-key-disha-mein-ek-pahal
गंगा डॉलफिन
स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर पीएम मोदी ने प्रोजेक्ट-डॉलफिन" योजना की घोषणा की है। जिसमें प्रॉजेक्ट टाइगर की तरह काम किया जाएगा। जैसे प्रोजेक्ट टाइगर में बाघों की संख्या बढ़ाने का काम किया गया था कुछ इसी तरह डॉलफिन को संरक्षित करने के लिये कदम उठाए जाएंगे।

प्रयास

आजीविका की बदौलत सामाजिक बदलाव

Submitted by HindiWater on Tue, 09/22/2020 - 17:33
ajivika-key-badoulat-samajik-badlav
आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव
मध्यप्रदेश के इंदौर में आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव की सुहानी सूरत देखने को मिल रही है। महिलाओं को संगठित कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन उनके हाथों में हुनर सौंप रहा है। उन्हें संसाधन मुहैया करा रहा है। निर्धन परिवारों की महिलाओं के लिए आजीविका नारी सशक्तिकरण की नयी मिसाल बन गई है।

नोटिस बोर्ड

भागीरथ प्रयास सम्मान  2020 के लिए नामांकन आमंत्रित 

Submitted by HindiWater on Tue, 10/13/2020 - 13:56
indiya-rivers-vik-ney-bhagidrath-prayas-samman-2020-kay-liye-namankan-amantrit-kiye-hai
इंडिया रिवर्स वीक
इंडिया रिवर्स वीक ने वर्ष 2020 के लिए भागीरथ प्रयास सम्मान और अनुपम मिश्र मेडल के लिये नामांकन आमंत्रित किये है। भागीरथ प्रयास सम्मान की शुरुआत 2014 में की गई। जिसके जूरी स्वर्गीय श्री रामास्वामी थे

हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर वेबिनार

Submitted by HindiWater on Thu, 10/08/2020 - 12:58
himalyan-aria-mein-spring-shade-management-par-webnar
वेबनार
रिवाइटलाइजिंग रेनफेड एग्रीकल्चर नेटवर्क (RRAN) और पीपल साइंस इंस्टिट्यूट (PSI)  हिमांचल प्रदेश के जमीनी अनुभव पर आधारित हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर एक वेबिनार आयोजित कर रहा है। 

पानी रे पानीअभियान के तहत गांधी जयंती के अवसर पर आयोजित कला प्रतियोगिता

Submitted by HindiWater on Wed, 09/30/2020 - 10:41
pani-ray-paniabhiyan-kay-tahat-gandhi-jayanti-kay-avsar-par-ayojit-kala-pratiyogita
पानी रे पानी
कला प्रतियोगिता के नियम 1) इसके दो आयु वर्ग होंगे : . 5 से 8 वर्ष . 9 से 14 वर्ष

Upcoming Event

Popular Articles