नया ताजा

पसंदीदा आलेख

आगामी कार्यक्रम

खासम-खास

Submitted by HindiWater on Sat, 09/19/2020 - 17:44
अनुपम मिश्र

आज भी खरे है तालाब अनुपम मिश्र की बहुचर्चित पुस्तक - 02 अध्याय नींव से शिखर तक रमाकान्त राय के संगीतमय अंदाज में

Content

Submitted by UrbanWater on Thu, 07/23/2020 - 09:46
Source:
जल चेतना, खण्ड 7, अंक 2, जुलाई 2018, जलविज्ञान संस्थान, रुड़की  
Nano_Technology
नैनो प्रौद्योगिकी द्वारा अब किसी भी स्रोत से साफ पेयजल तैयार कर पाना संभव हो गया है। वस्तुतः प्रचलित विधियों में पानी के शुद्धिकरण में जिन फिल्टरों का उपयोग होता है, वे स्वंय ही बैक्टीरिया आदि के कारण दूषित हो जाते हैं और फिल्टर के छिद्र भी बंद हो जाते हैं। नैनो प्रोद्योगिकी की सहायता से ऐसे प्राकृतिक नैनो कण तैयार किए गए हैं, जो पानी में उपस्थित जीवाणुओं को नष्ट तो कर ही देते हैं, साथ ही फिल्टरों को भी साफ करते रहते हैं ऐसी ही एक नैनो विधि से समुद्र का लवणीय (खारा) पानी भी मीठा बनाया जा रहा है। इन नैनो की कीमत भी कम होगी तथा इनसे सतही एवं भू-जल के दूषित होने पर उन्हें पीने योग्य बना लिया जाएगा।
Submitted by HindiWater on Wed, 07/22/2020 - 20:29
Source:
खत्म होता उत्तर प्रदेश में पानी, सीएम योगी ने बताए बचाने के उपाय
प्रदेश के 823 में से 287 विकासखंडों में भूजल में 20 सेंटीमीटर तक की गिरावट प्रतिवर्ष देखने को मिली है। प्रदेश में भूजल की उपलब्धता निरंतर कम हो रही है। साथ ही जल संसाधन पर दबाव चिंताजनक स्थिति में बढ़ रहा है।
Submitted by UrbanWater on Wed, 07/22/2020 - 09:20
Source:
बाढ़ में डूबे चापाकल से पानी लेते मासूम
“कोसी नदी का जलस्तर तो लगातार बढ़ रहा था, लेकिन बाहर निकलने का कोई साधन नहीं था, इसलिए घर में रहना तय किया और चौकी पर खाना पकाने का इंतजाम किया”, रामचंद्र ने बताया। कोसी तटबंध के भीतर रहने वाले लोग वर्षों से बाढ़ के समय इसी जुगाड़ से खाना पकाते हैं क्योंकि उन्हें पता है कि सरकार उनकी मदद नहीं करेगी। इस साल भी यही हुआ।

प्रयास

Submitted by HindiWater on Tue, 09/22/2020 - 17:33
आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव
मध्यप्रदेश के इंदौर में आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव की सुहानी सूरत देखने को मिल रही है। महिलाओं को संगठित कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन उनके हाथों में हुनर सौंप रहा है। उन्हें संसाधन मुहैया करा रहा है। निर्धन परिवारों की महिलाओं के लिए आजीविका नारी सशक्तिकरण की नयी मिसाल बन गई है।

नोटिस बोर्ड

Submitted by HindiWater on Tue, 10/13/2020 - 13:56
Source:
इंडिया रिवर्स वीक
इंडिया रिवर्स वीक ने वर्ष 2020 के लिए भागीरथ प्रयास सम्मान और अनुपम मिश्र मेडल के लिये नामांकन आमंत्रित किये है। भागीरथ प्रयास सम्मान की शुरुआत 2014 में की गई। जिसके जूरी स्वर्गीय श्री रामास्वामी थे
Submitted by HindiWater on Thu, 10/08/2020 - 12:58
Source:
वेबनार
रिवाइटलाइजिंग रेनफेड एग्रीकल्चर नेटवर्क (RRAN) और पीपल साइंस इंस्टिट्यूट (PSI)  हिमांचल प्रदेश के जमीनी अनुभव पर आधारित हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर एक वेबिनार आयोजित कर रहा है। 
Submitted by HindiWater on Wed, 09/30/2020 - 10:41
Source:
पानी रे पानी
कला प्रतियोगिता के नियम 1) इसके दो आयु वर्ग होंगे : . 5 से 8 वर्ष . 9 से 14 वर्ष

Latest

खासम-खास

आज भी खरे है तालाब-अध्याय 2 नींव से शिखर तक संगीतमय वाचन

Submitted by HindiWater on Sat, 09/19/2020 - 17:44
Author
इंडिया वाटर पोर्टल (हिंदी)
aaj-bhi-khare-hai-talab-adhyay-2-neev-se-shikhar-tak-sangitamay-vachan
Source
रमाकांत राय
अनुपम मिश्र

आज भी खरे है तालाब अनुपम मिश्र की बहुचर्चित पुस्तक - 02 अध्याय नींव से शिखर तक रमाकान्त राय के संगीतमय अंदाज में

Content

नैनो प्रौद्योगिकी से स्वच्छ एवं सुरक्षित पेयजल 

Submitted by UrbanWater on Thu, 07/23/2020 - 09:46
Author
डॉ. डीडी ओझा
डॉ डीडी ओझा
nano-proudyogiki-se-svachch-evam-surakshit-peazal
Source
जल चेतना, खण्ड 7, अंक 2, जुलाई 2018, जलविज्ञान संस्थान, रुड़की  
Nano_Technology
नैनो प्रौद्योगिकी द्वारा अब किसी भी स्रोत से साफ पेयजल तैयार कर पाना संभव हो गया है। वस्तुतः प्रचलित विधियों में पानी के शुद्धिकरण में जिन फिल्टरों का उपयोग होता है, वे स्वंय ही बैक्टीरिया आदि के कारण दूषित हो जाते हैं और फिल्टर के छिद्र भी बंद हो जाते हैं। नैनो प्रोद्योगिकी की सहायता से ऐसे प्राकृतिक नैनो कण तैयार किए गए हैं, जो पानी में उपस्थित जीवाणुओं को नष्ट तो कर ही देते हैं, साथ ही फिल्टरों को भी साफ करते रहते हैं ऐसी ही एक नैनो विधि से समुद्र का लवणीय (खारा) पानी भी मीठा बनाया जा रहा है। इन नैनो की कीमत भी कम होगी तथा इनसे सतही एवं भू-जल के दूषित होने पर उन्हें पीने योग्य बना लिया जाएगा।

खत्म होता उत्तर प्रदेश में पानी, सीएम योगी ने बताए बचाने के उपाय

Submitted by HindiWater on Wed, 07/22/2020 - 20:29
khatam-hota-uttar-pradesh-mein-pani-cm-yogi-ne-bataye-bachane-ke-tarike
खत्म होता उत्तर प्रदेश में पानी, सीएम योगी ने बताए बचाने के उपाय
प्रदेश के 823 में से 287 विकासखंडों में भूजल में 20 सेंटीमीटर तक की गिरावट प्रतिवर्ष देखने को मिली है। प्रदेश में भूजल की उपलब्धता निरंतर कम हो रही है। साथ ही जल संसाधन पर दबाव चिंताजनक स्थिति में बढ़ रहा है।

चौकी पर खाना सोना कर  रहे हैं रामचंद्र

Submitted by UrbanWater on Wed, 07/22/2020 - 09:20
Author
उमेश कुमार राय
chowky-par-khana-sona-kr-rahe-hain-ramchandra
बाढ़ में डूबे चापाकल से पानी लेते मासूम
“कोसी नदी का जलस्तर तो लगातार बढ़ रहा था, लेकिन बाहर निकलने का कोई साधन नहीं था, इसलिए घर में रहना तय किया और चौकी पर खाना पकाने का इंतजाम किया”, रामचंद्र ने बताया। कोसी तटबंध के भीतर रहने वाले लोग वर्षों से बाढ़ के समय इसी जुगाड़ से खाना पकाते हैं क्योंकि उन्हें पता है कि सरकार उनकी मदद नहीं करेगी। इस साल भी यही हुआ।

प्रयास

आजीविका की बदौलत सामाजिक बदलाव

Submitted by HindiWater on Tue, 09/22/2020 - 17:33
ajivika-key-badoulat-samajik-badlav
आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव
मध्यप्रदेश के इंदौर में आजीविका की बदौलत ग्रामीण महिलाओं में सामाजिक बदलाव की सुहानी सूरत देखने को मिल रही है। महिलाओं को संगठित कर राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन उनके हाथों में हुनर सौंप रहा है। उन्हें संसाधन मुहैया करा रहा है। निर्धन परिवारों की महिलाओं के लिए आजीविका नारी सशक्तिकरण की नयी मिसाल बन गई है।

नोटिस बोर्ड

भागीरथ प्रयास सम्मान  2020 के लिए नामांकन आमंत्रित 

Submitted by HindiWater on Tue, 10/13/2020 - 13:56
indiya-rivers-vik-ney-bhagidrath-prayas-samman-2020-kay-liye-namankan-amantrit-kiye-hai
इंडिया रिवर्स वीक
इंडिया रिवर्स वीक ने वर्ष 2020 के लिए भागीरथ प्रयास सम्मान और अनुपम मिश्र मेडल के लिये नामांकन आमंत्रित किये है। भागीरथ प्रयास सम्मान की शुरुआत 2014 में की गई। जिसके जूरी स्वर्गीय श्री रामास्वामी थे

हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर वेबिनार

Submitted by HindiWater on Thu, 10/08/2020 - 12:58
himalyan-aria-mein-spring-shade-management-par-webnar
वेबनार
रिवाइटलाइजिंग रेनफेड एग्रीकल्चर नेटवर्क (RRAN) और पीपल साइंस इंस्टिट्यूट (PSI)  हिमांचल प्रदेश के जमीनी अनुभव पर आधारित हिमालयन एरिया में स्प्रिंग शेड मैनेजमेंट पर एक वेबिनार आयोजित कर रहा है। 

पानी रे पानीअभियान के तहत गांधी जयंती के अवसर पर आयोजित कला प्रतियोगिता

Submitted by HindiWater on Wed, 09/30/2020 - 10:41
pani-ray-paniabhiyan-kay-tahat-gandhi-jayanti-kay-avsar-par-ayojit-kala-pratiyogita
पानी रे पानी
कला प्रतियोगिता के नियम 1) इसके दो आयु वर्ग होंगे : . 5 से 8 वर्ष . 9 से 14 वर्ष

Upcoming Event

Popular Articles